बिहार के राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में 3 हजार से ज्यादा पदों पर होगी बहाली, शुरू करें तैयारी

खबरें बिहार की

पटना: राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में कई पदों पर बहाली (Recruitment In Revenue And Land Reforms Department Of Bihar) होगी. अंचलों में डाटा इंट्री ऑपरेटरों एवं अन्य तकनीकी कर्मियों की आवश्यकता को देखते हुए कुल 3883 पदों की स्वीकृति दी गयी है. जिसे तत्काल बेल्ट्रॉन, आउटसोर्सिंग से लिया जायेगा.

इसमें सिस्टम एनालिस्ट का एक पद, प्रोग्रामर का पांच पद, डाटा इंट्री ऑपरेटर के ग्रेड-सी के 139 पद, डाटा इंट्री ऑपरेटर ग्रेड- ए के 3738 पद शामिल है. उक्त जानकारी शनिवार को विभागीय मंत्री रामसूरत कुमार ने दी. उन्होंने कहा कि अमीन की कमी को दूर करने के लिए संविदा के आधार पर सृजित कुल 550 पदों में से 486 अमीन का नियोजन कर नौ मार्च को प्रशिक्षण कार्य प्रारंभ कर दिया गया है.

विशेष सर्वेक्षण सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी के 215, विशेष सर्वेक्षण लिपिक के 339, विशेष सर्वेक्षण कानूनगो के 319 एवं विशेष सर्वेक्षण अमीन के 1178 पद पर संविदा पर आधारित नियुक्ति एवं प्रशिक्षण का कार्य पूरा किया गया है. 1668 नियमित अमीन तथा 4353 राजस्व कर्मचारियों की नियुक्ति भी शीघ्र कर लिये जाने की संभावना है.

मंत्री ने कहा राजस्व कार्यों में तेजी लाने के लिए प्रमंडल स्तर पर लगातार गहन समीक्षा की जा रही है. अभी तक मगध, सारण एवं मुजफ्फरपुर प्रमंडलों में प्रमंडल स्तरीय समीक्षा की गयी है. शेष प्रमंडलों में भी शीघ्र समीक्षा कार्य किया जायेगा.

टॉपर रैकिंग वाले ही पायेंगे अंचलों में पोस्टिंग

राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में अच्छी मानी जाने वाली जगह पर उन कर्मचारियों की तैनाती की जायेगी जिन्होंने अपने काम को बेहतर किया है. कामचोर और जनहितों की अनदेखी करने वाले डाटा इंट्री ऑपरेटर, राजस्व कर्मचारी और अमीन को फील्ड छोड़ना होगा. अपर मुख्य सचिव विवेक कुमार सिंह के आदेश पर विभाग ने इस दिशा में काम शुरू कर दिया है. इसकी शुरुआत जिला और अनुमंडल के अधीन अंचल कार्यालय से हो गयी है. जल्द ही यह नियम अंचल अधिकारी आदि वरीय पदों पर भी लागू किया जायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *