मोक्ष नगरी गया के रूक्मणी तालाब में शुरू हुआ नौका विहार, तीर्थयात्री ले सकेंगे आनंद

प्रेरणादायक मनोरंजन

देश विदेश से पिंडदान के लिए आने वाले तीर्थयात्री अब मोक्ष नगरी गया में नौका विहार का भी आनंद ले सकेंगें. शहर के माड़नपुर स्थित अक्षयवट के समीप रुकमणी तालाब में नौका विहार की रविवार को शुरुआत कर दी गयी है.

मेयर वीरेंद्र कुमार और डिप्टी मेयर मोहन श्रीवास्तव ने नौका विहार का फीता काटकर विधिवत उद्घाटन किया गया. रूक्मिणी तालाब में प्रति व्यक्ति 50 रुपये की दर से 1 घंटे तक नौका विहार का आनंद ले सकते हैं.

 

इस मौके पर मेयर गणेश पासवान ने कहा कि आज का दिन गया शहर के लिए ऐतिहासिक दिन है. रुकमणी तालाब में नौका बिहार का उद्घाटन किया गया है, जो शहर वासियों के लिए मनोरंजन का केंद्र बनेगा. उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में यह देखा जा रहा था कि बच्चों के ऊपर पढ़ाई को लेकर ज्यादा बोझ रहता है.

 

बच्चे तनाव में रहते हैं, साथ ही शहर वासियों के लिए कोई बहुत बड़ा मनोरंजन का साधन नहीं है. इसे देखते हुए रुकमणी तलाब में नौका विहार की सौगात दी गयी है. उन्होंने कहा कि फिलवक्त 5 नौका द्वारा लोग मनोरंजन कर सकेंगे. आने वाले समय में जल्द ही शहर के सिंगरा स्थान, दिग्घी तलाब सहित अन्य तालाबों में भी नौका विहार की सुविधा दी जाएगी. इसके अलावा शहर में ओपन जिम एवं चिल्ड्रन पार्क की भी सौगात शहरवासियों को बीच जल्द उपलब्ध होगी.

वहीं डिप्टी मेयर मोहन श्रीवास्तव ने कहा कि गयाजी ऐतिहासिक एवं अंतर्राष्ट्रीय ख्याति पर्याप्त स्थल है. ऐसे में शहर वासियों के लिए यहां मनोरंजन की भरपूर व्यवस्था हो, इस तरह का विचार हम लोगों ने लाया था. नगर निगम के पार्षद गण एवं अन्य लोगों के अथक प्रयास के बाद यह संभव हो पाया है.

 

उन्होंने कहा कि इसके अलावा शमशान घाट को भी को भी अत्याधुनिक बनाया जा रहा है. सीताकुंड पिंडवेदी में भी हर तरह की सुविधा दी गई है. शहर में ओपन जिम, चिल्ड्रन पार्क सहित अन्य कई योजनाओ पर काम चल रहा है. आने वाले समय में गया शहर की फिजा बदली हुई देखेगी. कई तालाबों मे रोशनी के साथ साउंड एंड लाइट सिस्टम की भी व्यवस्था की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.