मोकामा में बनेगा सिक्स लेन पुल, बिहार में गंगा पर बनेंगे दर्जन पुल…

खबरें बिहार की

राज्य में गंगा पर नए पुलों की श्रृंखला में मोकामा पुल का नाम भी शुमार होने वाला है। कई वर्षो से लटके इस पुल के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है।

अगले तीन महीने में गंगा पर मोकामा के राजेन्द्र सेतु के समानांतर नए पुल का काम शुरू हो जाएगा। गंगा पर छह लेन का यह दूसरा पुल होगा।

 

इसके पहले कच्ची दरगाह और बिदुपुर के बीच छह लेन का पुल बनना शुरू हो चुका है। चार बार टेंडर रद्द होने के बाद गंगा पर नए मोकामा पुल के लिए निर्माण एजेंसी का चयन हो चुका है।

इसके पहले कभी पुल में रेलवे भाग को जोड़ने के लिए तो कभी जहाज सेवा को देखते हुए पुल की डिजाइन बदलने के लिए टेंडर रद्द हुआ।

इस बार सभी विभागों का क्लीयरेंस लेने के बाद पुल का टेंडर छह लेन का हुआ और एजेंसी का चयन हो गया।

पहले चार लेन का बनना था पुल : यह पुल पहले चार लेन का बनना था। बाद में सरकार ने ट्रैफिक के दबाव को देखते हुए इसकी चौड़ाई बढ़ाने का फैसला किया।

इस पुल की लंबाई 8.15 किमी होगी। इसके अलावा पहुंच पथ होगा। एजेंसी का चयन सिर्फ पुल निर्माण के लिए हुआ है। पहुंच पथ के लिए अलग से एजेंसी का चयन होगा।

तीन साल में पूरा होगा : राष्ट्रीय उच्च पथ प्राधिकरण के अनुसार पुल औंटा से सिमरिया घाट के बीच बनेगा।इसका निर्माण तीन साल में पूरा हो जाएगा।

पुल को लिंक करने वाली बख्तियारपुर-मोकामा और सिमरिया-खगड़िया सड़क का टेंडर पहले ही कर दिया गया है। लगभग 120 किमी की इस सड़क को एनएचएआई ने तीन भागों में बांटा है।

एक भाग गंगा पर पुल का है। शेष दो भाग गंगा के दोनों पार की सड़कों का है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.