राज्य के सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में एमबीबीएस की सीटें दोगुनी से भी अधिक करने की तैयारी शुरू हो गयी है. स्वास्थ्य विभाग राज्य के सभी आठ मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस की 950 अतिरिक्त सीटों पर दाखिले की तैयारी में जुटा हुआ है.

राज्य के इस प्रस्ताव को केंद्र सरकार की सहमति मिलती है तो राज्य में वर्तमान 850 सीटें बढ़कर 1800 हो जायेंगी. इसका सीधा लाभ मेडिकल की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को मिलेगा. राज्य के सरकारी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस की सीटों में वृद्धि की यह कवायद वर्ष 2011 के बाद फिर से की जा रही है.

वर्तमान में राज्य के आठ सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में 850 विद्यार्थियों का ही एमबीबीएस में नामांकन होता है.

अभी पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 150 सीटें हैं, जबकि शेष अन्य सात मेडिकल कॉलेजों में 100-100 सीटें ही हैं. वर्ष 2011 में दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में एमबीबीएस में महज 10 सीटों का इजाफा हुआ था, जबकि अन्य पांच मेडिकल कॉलेज अस्पतालों- पीएमसीएच, एएनएमएमसीएच, एसकेएमसीएच, जेएलएनएमसीएच और एनएमसीएच में 50-50 सीटों की वृद्धि की गयी थी.

सीटों में वृद्धि के लिए कराया जा रहा एसेसमेंट : कौशल किशोर

स्वास्थ्य विभाग के अपर सचिव कौशल किशोर ने बताया कि राज्य के सभी आठ मेडिकल कॉलेजों में सीटों की वृद्धि का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है. इसके लिए सभी मेडिकल कॉलेजों का एसेसमेंट कराया जा रहा है. राज्य सरकार द्वारा भेजे जाने वाले के प्रस्ताव पर केंद्र सरकार जितनी भी सीटें पर स्वीकृति मिलती है, उसके अनुसार नामांकन किया जायेगा.

कहां िकतनी बढ़ जायेंगी सीटें

मेडिकल कॉलेज वर्तमान सीटें प्रस्तावित

  • पीएमसीएच, पटना 150 250
  • एनएमसीएच, पटना 100 250
  • डीएमसीएच, दरभंगा 100 250
  • एसकेएमसीएच, मुजफ्फरपुर 100 250
  • जेएलएनएमसीएच, भागलपुर 100 250
  • एएनएमएमसीएच, गया 100 250
  • जीएमसी, बेतिया 100 150
  • वीआइएमएस, पावापुरी 100 150

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here