इंसानियत को मार रहा है कोरोना, कोरोना मरीज के शव को नदी किनारे फेंककर भागे एंबुलेंसकर्मी

खबरें बिहार की

पटना: कोरोना सेे बिहार का हाल बेहाल है। वायरस लोगों को मारने के साथ ही इंसानियत को भी मार रहा है। लोगों की संवेदना मरने के कई मामले सामने आ रहे हैं। ताजा मामला बिहार के कटिहार का है। जिले में शुक्रवार की शाम मुफस्सिल थाना क्षेत्र के कटिहार-पूर्णिया सड़क पर स्थित भसना चौक के पास का एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति के डेड बॉडी को आपत्तिजनक स्थिति में फेंकने का वीडियो वायरल हुआ है।

बिना पीपीई किट पहने हुए कुछ व्यक्ति एक लाश को संबंधित एंबुलेंस से नीचे उतरता है इसके बाद 4 आदमी उसे पकड़कर नदी किनारे ले जाता है और इसके बाद नदी में फेंक दी जाती है। वीडियो बनाने वाले कौन है इसकी जानकारी नहीं है लेकिन वीडियो में जिस भाषा का प्रयोग किया गया इससे लगता है कि स्थानीय लोग ने ही आपत्तिजनक हालत में लाश को फेंकने की प्रक्रिया शुरू करने को देखने के बाद वीडियो बनाया है। 

हालांकि संबंधित वायरल वीडियो में लाश को फेंकते हुए नहीं दिखाया गया है लेकिन सूत्र बताते हैं कि एंबुलेंस से जिस व्यक्ति की लाश को एंबुलेंस से उतारा गया है उसकी मौत कोरोना वायरस के संक्रमण से गुरुवार को हुई थी। संबंधित लाश को डिस्पोजल के लिए सदर अस्पताल की टीम को तैनात किया गया था।  

उधर, सिविल सर्जन डॉक्टर डीएन पांडे ने बताया कि वायरल वीडियो की उन्हें जानकारी नहीं है। यदि ऐसा है तो जांच करवाकर दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। बहरहाल जांच के बाद ही वायरल वीडियो की सत्यता सामने आ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.