मार्च में ही पारा पहुंच गया 40 के पार, बिहार में अभी और बढ़ेगा तापमान

खबरें बिहार की जानकारी

प्रदेश का मौसम काफी तेजी से बदल रहा है। वातावरण में गर्मी लगातार बढ़ती जा रही है। चैत महीने की शुरुआत में ही जो हाल है उससे लोगों को ज्‍येष्‍ठ और आषाढ़ की गर्मी की चिंता सताने लगी है। रविवार को बांका राज्य का सर्वाधिक गर्म स्थान रहा। वहां पर अधिकतम तापमान 40 को पार गया। वहां पर अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। आज भी गर्मी परेशान करेगी। तेज गर्मी में सेहत को लेकर सजग रहने की सलाह चिकित्‍सकों ने दी है।

रविवार को औसत तापमान भी रहा 38 के आसपास 

रविवार को प्रदेश का औसत अधिकतम तापमान 36 से 38 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा। राजधानी में अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वहीं हरनौत, बक्सर एवं बेगूसराय का तापमान 39 डिग्री सेल्सियस से अधिक रिकार्ड किया गया। प्रदेश में सबसे कम तापमान सहरसा के अगवानपुर का रहा। वहां पर न्यूनतम तापमान 19.5 डिग्री सेल्सियस तापमान रिकार्ड किया गया। प्रदेश का मौसम अगले पांच दिनाें तक शुष्क बने रहने की उम्मीद है। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानी संजय कुमार का कहना है कि प्रदेश का मौसम बहुत तेजी से बदल रहा है। धीरे-धीरे वातावरण में गर्मी बढ़ती जा रही है।

तेज धूप से अपने बच्‍चों को बचाकर रखें 

वर्तमान में वातावरण में बढ़ रही गर्मी और तेज धूप से चिकित्सकों ने बच्चों को बचाने की सलाह दी है। पीएमसीएच के वरिष्ठ शिशु रोग विशेषज्ञ डा.राकेश कुमार शर्मा का कहना है कि प्रदेश का पारा दोपहर में काफी चढ़ जा रहा है। ऐसे के बच्चों को लेकर अभिभावकों को बेहद सावधान रहने की जरूरत है। तेज धूप में बच्चों को खुले सिर घर से बाहर न निकालें। ज्यादा देर तक तेज धूप में रहने पर भी बच्चों को परेशानी हो सकती है। दोपहर में बच्चों को छांव में रखने का प्रयास करें। बच्चों को सुबह-शाम में ही घर से बाहर खेलने के लिए भेजें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.