मरंगा में शिफ्ट किया जाएगा बस अड्डा, सिक्स लेन सड़क बनने से लोगों की राह हो जाएगी आसान

जानकारी

बिहार के पूर्णिया शहर के बीचोबीच जाम का कारण बन रहा बस अड्डा जल्द ही मरंगा में शिफ्ट किया जाएगा। इसके लिए बियाडा में साढ़े सात एकड़ जमीन की तलाश पूरी कर ली गयी है। बस अड्डा शिफ्ट होने से शहरवासियों को जाम की समस्या से निजात मिल जाएगी। खासकर फोर्ड कंपनी चौक से मरंगा तक सिक्स लेन रोड से लोगों की राह आसान हो जाएगी।

बुधवार को जिलाधिकारी सुहर्ष भगत ने कहा कि एयरपोर्ट और नेशनल हाइवे के साथ सभी पंचायतों में स्थापित लाइब्रेरी का नियमित संचालन उनकी प्राथमिकता सूची में तो है ही शहर के सौंदर्यीकरण का भी प्रयास होगा। वह सुबह में स्वयं शहर घूमेंगे। स्ट्रीट लाइट, ट्रैफिक लाइट, डिवाइडर हर व्यवस्था देखेंगे। सिटी ब्यूटीफिकेशन का हरसंभव प्रयास होगा। शहरी जनसंख्या बढ़ने के साथ ड्रेनेज सिस्टम की जरूरत बढ़ गयी है। नाला उड़ाही का कार्य चल रहा है। नाला ब्लाकेज हटाया जाएगा। कुछ वार्ड चिह्नित किए गए हैं, जहां जल्द ही काम शुरू हो जाएगा। जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में बुधवार को बैठक की गई। बैठक में कई अधिकारी उपस्थित थे।

जलजमाव का निदान
शहर के 46 वार्डों में जल जमाव की समस्या कहां-कहां होती है, उसका कारण एवं समाधान पर विचार-विमर्श किया गया। स्थल निरीक्षण कर नालों की साफ-सफाई कराकर उसे दूर करने का निर्देश दिया गया। जिस मोहल्लों में जलजमाव हो जाता है, वहां पम्पिंग सेट लगाने का निर्देश दिया गया। शहर में नाली की सफाई अभियान भी चल रहा है।

पहले दिन ही रैकिंग में नंबर वन की सौगात
पहले दिन ही सुहर्ष भगत के लिए हर्ष वाली खबर आयी। डेल्टा रैंकिंग में हेल्थ व न्यूट्रीशन में पूर्णिया जिला को देश में नंबर वन रैकिंग मिली है। पांच आकांक्षी जिलों में पूर्णिया पहले स्थान पर, हरियाणा का मेवात दूसरे, झारखंड का खूंटी तीसरे, मणिपुर का चंदेल चौथे और रामगढ़ पांचवें स्थान पर आया।

75 अमृत सरोवर का होगा निर्माण
आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में पूर्णिया जिला में 75 अमृत सरोवर का निर्माण होगा। जिलाधिकारी ने बताया कि 75 पोखर का निर्माण व जीर्णोद्धार कराया जाएगा। इस साल लक्ष्य का बीस फीसदी सरोवर तैयार हो जाएगा। कम से कम एक एकड़ में पोखर का निर्माण किया जाएगा।

जाम की समस्या
शहर में जाम की समस्या कहां-कहां है, उस पर ध्यान दिया जाएगा। पार्किंग स्थल का बन्दोबस्त कर दिया गया है। जहां अतिक्रमण होगा, वहां से अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाया जाएगा। नगर निगम से समन्वय स्थापित करते हुए जलजमाव एवं जाम की स्थिति का निराकरण किया जाएगा। शहरवासियों को इससे राहत होगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.