बिहार में घर बैठे मंगा सकेंगे किसी भी गाँव-कस्बे का नक्शा

खबरें बिहार की

Patna: बिहार में अब किसी भी गाँव , कस्बों और मौजों का मैप पाना बेहद आसान हो जायेगा. इसके लिए अब आपको ना ही पटना के गुलजारबाग स्थित बिहार सर्वेक्षण कार्यालय के चक्कर काटने नहीं पड़ेंगे , और न ही नक्शा निकलवाने के लिए दलालों के फेरे में पड़ना पड़ेगा. अब आप मानचित्र को घर बैठे बड़े ही आराम से ऑनलाइन माँगा सकते हैं. इसके लिए बिहार सरकार पूरी तैयारी कर चुकी है और यह सुबिधा आम लोगों को इसी महीने जुलाई में ही मिलनी शुरू होल जाएगी. खास बात तो यह है कि ऐसी सर्विस देने वाला अपना बिहार , देश का पहला राज्य बन जाएगा.

जैसा कि आप जानते हैं कि गाँव , कसबे , मौजे इत्यादि का नक्शा जारी करने सम्बन्धी काम राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्रालय के अन्दर आता है. इसलिए राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामसूरत कुमार ने ऑनलाइन मैप मंगाने की सुविधा को शीघ्र शुरू करने का निर्देश विभाग के भू अभिलेख और परिमाप निदेशक जय सिंह को दिया है. इस सुविधा के बारे में भू अभिलेख निदेशक ने बताया है कि राज्य में राजस्व मानचित्रों की डोर स्टेप डिलीवरी जुलाई 2021 से ही शुरू हो जाएगी. इसके लिए डाक विभाग और बैंक के साथ बिहार सर्वेक्षण कार्यालय द्वारा एक MOU साइन हो चूका है. सिक्युरिटी ऑडिट भी कर ली गयी है.

MOU के मुताबिक सभी प्रमुख बैंक इस सुविधा से जुड़े हुए हैं और इस सेवा का लाभ लेने के लिए बैंक अलग से कोइ चार्ज नहीं करेगा. जब आप ऑनलाइन मैप मंगाएंगे तो यह स्पीड पोस्ट के जरिये आप तक पहुंचेगा , स्पीड पोस्ट सेवा के लिए डाक विभाग द्वारा पांच लाख बारकोड का आवंटन गुलजारबाग स्थित बिहार सर्वेक्षण कार्यालय को कर दिया गया है. आप तक ये मैप सुरक्षित पहुँच सके , इसके लिए इन्हें कंटेनर में रखकर उपलब्ध कराया जाएगा ताकि नक्शा मुड़ या फट न जाये , साथ ही हर कंटेनर पर बार कोड जेनेरेटेड स्टीकर भी लगा रहेगा.

बता दे कि एक कंटेनर या डब्बा का दाम 35 रुपया है , इसमें पांच नक़्शे एक बार में आ सकते हैं. लेकिन आपको कंटेनर के भार के हिसाब से चार्ज देने होंगे. अगर कंटेनर सहित तीन नक्शा मंगवाते हैं तो आपको सौ रूपये लगेंगे , और तीन से ज्यादा नक़्शे यानि चार या पांच नक़्शे मंगाने पर आपको 150 रूपये चार्ज लगेंगे. बिहार सर्वेक्षण कार्यालय ने कंटेनरों की खात्रीदारी भी कर ली है.

नक्शे की ऑनलाइन डिलीवरी के लिए सबसे पहले आपको भू–अभिलेख और परिमाप निदेशालय की वेबसाइट dlrs.bihar.gov.in पर जाना होगा , जहाँ डोर स्टेप डिलिवरी सिस्टम को क्लिक करना होगा। इसके बाद पेज पर आप जिला, राजस्व थाना एवं मौजा सेलेक्ट करने का ऑप्शन आएगा। आप मनचाहा नक्शा पर क्लिक कर सकते हैं, जिसके बाद आपको उस गाँव का नक्श एक या अधिक शीट में दिखाई देगा. आप एक बार में अधिकतम पांच शीट को सेलेक्ट कर सकते हैं. उसके बाद पेमेंट गेटवे में डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड एवं यूपीआई से भुगतान की सुविधा दी गई है, जिससे आप ऑनलाइन पे कर सकते हैं . उसके बाद स्पीड पोस्ट से आप तक मैप पहुँच जायेंगे.

बताते चले कि वर्तमान में बिहार वासी किसी नक्शा के लिए गुलजारबाग स्थित बिहार सर्वेक्षण कार्यालय पहुंचते हैं। वहीं शाहाबाद क्षेत्र के चार जिलों (भोजपुर, बक्सर, रोहतास और कैमूर) को छोड़ कर बिहार के बाकि 34 जिलों के सदर अंचलों में प्लॉटर भी लगाए गए हैं। उन प्लॉटरों के जरिए बड़े पन्नों पर गांव का नक्शा प्रिंट किया जाता है।लेकिन इन सब में काफी भागदौड़ और लम्बी लाइन्स में खड़ा होना पड़ता है. ऐसे में इस कोरोना काल के लिहाज से भी यह सुविधा ऑनलाइन तौर पर मिल जाने पर लोगों को काफी राहत मिलेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.