दिल्ली जीत के बाद मनोज तिवारी- “हर जीत की खबर से जवानों की शहादत याद आ रही है। दिल्ली के लोगों का धन्यवाद करते हैं, पर जीत सेलिब्रेट करने के लिए नगाड़े न बजाएं।”

कही-सुनी

सब लोग यही जानना चाहते है कि आखिर बीजेपी को दिल्ली के एमसीए चुनाव में इतनी भारी बहुमत क्यों और कैसे मिल गया।

दिल्ली एमसीडी के चुनावों में बीजेपी को भारी जीत मिली इसको लेकर जहाँ एक और बीजेपी का आत्म विश्वास बढ़ा है वहीं दिल्ली की शेर मानी जाने वाली आम आदमी पार्टी को जबर्दस्त झटका लगा है। एक रिपोर्ट के अनुसार इसबार लोगों ने मोदी के विजन और काम के आधार पर वोट किया है। अमित शाह की स्ट्रेटजी फिर काम आई।

उन्होंने मौजूदा किसी भी पार्षद को टिकट ने देकर अलग उम्मीदवार खड़ा कर सबकी नाराजगी को ही ख़त्म कर दिया। नए चेहरों की वजह से करप्शन और काम न करने की शिकायतें खत्म सी हो गईं।

कहा जा रहा है कि पूर्वांचल के वोट लेने में अभिनेता मनोज तिवारी का नेतृत्व बहुत काम आया। दिल्ली में बिहार-यूपी के करीब 30 से 40 लाख लोग रहते हैं। मनोज तिवारी इन लोगों का वोट बीजेपी को दिलवाने में बेहतरीन कड़ी साबित हुए। सेलिब्रेटी होने की वजह से काफी लोग उनसे इमोशनल जुड़ाव रखते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.