मकर संक्रांति के मौके पर शहर में हर मोहल्ले में दूध-दही मिलेगा। इसके लिए पुख्ता इंतजाम किया गया है। लोग सुधा के विभिन्न बूथों से सीधे दही खरीद सकते हैं। दूध खरीद कर दही जमाने वालों के लिए भी कोई दिक्कत नहीं होगी। सभी लोगों के लिए दही सुलभ हो, इसके लिए सस्ती मीठी दही भी महज 10 रुपए में उपलब्ध है।

कॉम्फेड ने सिर्फ पटना शहर में 20.50 लाख लीटर दूध और 3.10 लाख किलो दही की बिक्री का इंतजाम किया है। आम लोगों के लिए यह इंतजाम गत वर्ष की अपेक्षा अधिक है। पटना शहर के 121 पूर्ण कालीन बूथ और 3259 बिक्री केन्द्रों पर यह व्यवस्था की गई है। खास बात है कि सुबह छह बजे से रात 9 बजे तक दूध-दही सुलभ रहेगा।

12 और 13 जनवरी : टैंकर से दूध सप्लाई
शहर के बोरिंग रोड चौराहा, राजवंशी नगर हनुमान मंदिर, पीरबहोर थाना, दिनकर गोलंबर और गाय घाट पुल के नीचे दूध टैंकर खड़े रहेंगे। उनके माध्यम से दूध की थोक बिक्री होगी। इन केन्द्रों पर निर्धारित अवधि में बिक्री होगी।

बोरिंग रोड चौराहे : सुबह सात बजे से 10 बजे तक
राजवंशी नगर : सुबह 10.30 बजे से अपराह्न 1.30 बजे तक
जगदेव पथ : अपराह्न 2 बजे से शाम 5 बजे तक
पीरबहोर : सुबह 7 से 10 तक
दिनकर गोलंबर : सुबह 10.30 से दोपहर 1.30 बजे तक
गाय घाट पुल के नीचे : दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक
यहां पर लोग थोक मात्रा में दूध खरीद कर अपने उपयोग के लिए दही जमा सकते हैं।

आठ उड़नदस्ता तैयार
कॉम्फेड ने दूध-दही एवं अन्य उत्पादों की उपलब्धता बनाए रखने को आठ उड़नदस्ता गठित किया है। ये दस्ते सुबह 6 बजे से रात 9 बजे तक शहर के सभी क्षेत्रों का भ्रमण कर बिक्री कार्य का निरीक्षण करेंगे ताकि कहीं दूध-दही की कमी नहीं हो।

टोल फ्री नंबर पर लें जानकारी
टोल फ्री नंबर 18003456199 भी जारी किया गया है। इस नंबर पर दूध-दही की उपलब्धता, गुणवत्ता आदि किसी भी संबंध में जानकारी ली जा सकती है। चार दही स्पेशल वाहन की व्यवस्था भी की गई है। इनसे दिनभर दही की आपूर्ति की जाएगी।

आपकी जरूरत के अनुसार हर पैक में दही
60 ग्राम प्लेन दही : 10 रुपए
200 ग्राम प्लेन दही : 25 रुपए
400 ग्राम प्लेन दही : 45 रुपए
1 किलो दही : 105 रुपए
2 किलो दही :200 रुपए
5 किलो दही का जार : 475 रुपए

पांच सौ एमएल के एलेक्स्टर दूध का पैक 28 रुपए में मिलेगा। ऐसा दूध सामान्य तापमान पर क्रमश: 11 माह व कम से कम तीन माह तक सुरक्षित रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here