मैं चाहकर भी तेजप्रताप के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर सकता… बिहार राजद चीफ जगदानंद सिंह ने बताई मजबूरी

जानकारी

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप इन दिनों बिहार की राजनीति का हॉट टॉपिक बने हुए हैं। इफ्तार पार्टी के अगले ही दिन पार्टी नेता ने उनपर मारपीट के आरोप लगाए। इसके बाद उन्होंने ट्वीट कर पार्टी से इस्तीफा देने की बात कही। हालांकि एक दिन बाद ही उन्होंने यूटर्न ले लिया। इस पूरे मामले को लेकर राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह चर्चा में हैं। उन्होंने तेजप्रताप यादव के खिलाफ कार्रवाई करने में अपनी लाचारगी दिखाई है।

जब जगदानंद सिंह से पूछा गया कि क्या वे तेजप्रताप पर कार्रवाई करेंगे तो उन्होंने कहा कि मैं चाहकर भी ऐसा नहीं कर सकता। उनका कहना है कि तेजप्रताप विधायक हैं और उनपर कार्रवाई करने का हक सिर्फ राष्ट्रीय अध्यक्ष को है। उन्होंने कहा, राजद के संविधान पर विचार करके विवेकपूर्वक निर्णय करने का अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के अलावा किसी के पास नहीं है। बता दें कि तेजप्रताप प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर भी हमलावर रहे हैं।

वहीं विवाद के बीच तेजप्रताप राबड़ी आवास शिफ्ट हो गए हैं। माना जा रहा है कि मां राबड़ी के हस्तक्षेप के बाद हुआ है और अब तेजप्रताप के तेवर नरम हो गए हैं। वहीं दूसरी तरफ तेजप्रताप का कहना है कि पार्टी के कुछ नेता उनके खिलाफ साजिश रच रहे हैं। इसके लिए उन लोगों ने राजराम यादव को मोहरा बनाया है।

मांझी के घर हो रही मेरे खिलाफ साजिश

बुधवार को तेजप्रताप यादव ने एक वीडियो जारी करते हुए आरोप लगाया कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम के संरक्षण जीतन राम मांझी के घर से उन्हें बदनाम करने की साजिश चल रही है। उन्होंने यूट्यूब पर जारी वीडियो में अपना इंटरव्यू लेने आए एक कथित पत्रकार को एक्सपोज करने का दावा किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि मांझी के घर से उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.