महावीर मंदिर पटना में खोलेगा अस्पताल, सीतामढ़ी में बनेगा मां जानकी का मंदिर

जानकारी प्रेरणादायक

महावीर मंदिर न्यास वरिष्ठ नागरिकों के लिए जरारोग अस्पताल खोलेगा। न्यास की गुरुवार को हुई बैठक में यह प्रस्ताव पारित किया गया। इसके साथ ही सीतामढ़ी में माता जानकी के शिशु स्वरूप की प्रतिमा स्थापित कर प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। न्यास की बैठक पटना जंक्शन के समीप स्थित महावीर मंदिर परिसर में हुई, जिसमें वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए 203.16 करोड़ रुपये का बजट पारित किया गया। न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि महावीर मंदिर की ओर से माता सीता के प्राकट्य स्थल सीतामढ़ी के पुनौराधाम में जानकी मंदिर का निर्माण कराया जाएगा। भक्तों की मांग को ध्यान में रखते हुए मंदिर में मां जानकी के शिशु स्वरूप की प्रतिमा स्थापित की जाएगी।

जुलाई से वरिष्ठ नागरिकों के लिए अस्पताल

वरिष्ठ नागरिकों की बेहतर चिकित्सा के लिए महावीर जरारोग अस्पताल खोला जाएगा। इसके लिए पटना में भवन किराए पर लेने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। जुलाई महीने से अस्पताल चालू हो जाएगा। यहां 60 वर्ष से अधिक उम्र के सभी मरीजों का इलाज सीजीएचएस यानी केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना की दर पर किया जाएगा। बुजुर्गों को अस्पताल लाने के लिए एंबुलेंस की सेवा मुफ्त होगी। आगामी वित्तीय वर्ष में इस पर एक करोड़ रुपये का व्यय होगा।

विराट रामायण मंदिर के लिए 52 करोड़ रुपये 

पूर्वी चंपारण जिले के केसरिया में विश्व के सबसे ऊंचे रामायण मंदिर के निर्माण के लिए बजट में 52 करोड़ रुपये का प्रविधान किया गया है। इसकी व्यवस्था महावीर मंदिर की संचित निधि और अन्य स्रोतों से की जाएगी। दिल्ली में नए संसद भवन के निर्माण में लगे इंजीनियर और दक्ष कारीगरों की टीम ही मंदिर निर्माण में योगदान देगी। विराट रामायण मंदिर का निर्माण 250 साल तक टिकाऊ संरचना के आधार पर होगा। इसका निर्माण केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के पूर्व महानिदेशक विनीत जायसवाल की देखरेख में कराया जाएगा।

रामायण विश्वविद्यालय के लिए दो करोड़ 

वैशाली के इस्माइलपुर में प्रस्तावित रामायण विश्वविद्यालय की स्थापना पर महावीर मंदिर न्यास की ओर से नए वित्तीय वर्ष में दो करोड़ खर्च किया जाएगा। आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि शिक्षा विभाग को प्रस्ताव भेजा गया है। श्री महावीर स्थान न्यास समिति इस्माइलपुर में 10 एकड़ से अधिक जमीन रामायण विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए देगी। शिक्षा विभाग की मंजूरी के बाद विश्वविद्यालय निर्माण के लिए आगे की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

महावीर अस्पतालों के बनेंगे नए भवन 

महावीर आरोग्य संस्थान के कंकड़बाग स्थित वर्तमान परिसर में बहुमंजिला अत्याधुनिक भवन के निर्माण को मंजूरी मिल गई है। इस पर 10 करोड़ की राशि खर्च की जाएगी।  महावीर कैंसर संस्थान के कैंपस दो के निर्माण को भी मंजूरी दी गई है। फुलवारीशरीफ के बोचाचाक में बनने वाले नए परिसर के निर्माण पर 10 करोड़ खर्च किए जाएंगे। 2024 तक महावीर कैंसर संस्थान का दूसरा परिसर बनकर तैयार हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.