महंगाई की पिच पर ताबड़तोड़ बैटिंग कर रहीं आटा, तेल, दाल, चावल समेत अधिकतर आवश्यक वस्तुएं, नमक भी हुआ महंगा

जानकारी राष्ट्रीय खबरें

महंगाई की पिच पर पिछले 5 साल आलू-प्याज-टमाटर से लेकर नमक-चीनी-गुड़ तक धुंआधार बैटिंग कर रहे हैं। आवश्यक वस्तुओं में शामिल चीनी और चना दाल को छोड़कर सभी की कीमतें बढ़ी हैं। वहीं भारत में प्रति व्यक्ति आय 2017 के 83003 रुपये वार्षिक के मुकाबले 86659 रुपये ही हुई है।

अगर उपभोक्ता मंत्रालय के वेबसाइट पर दिए गए आवश्यक वस्तुओं के खुदरा रेट की बात करें तो आज चावल 24.20 फीसद बढ़ा है तो गेहूं 25.51 फीसद। यानी पांच साल पहले 100 रुपये में जितना गेहूं-चाव मिलता था अब उतने के लिए 125 रुपये खर्च करने पड़ रहे हैं।

मंडी में मोटी हुई दाल और थाली में पतली

अगर दालों की बात करें तो 5 साल पहले चना दाल की औसत कीमत 87 रुपये प्रति किलो थी, जो 14.84 फीसद घटकर 74.09 रुपये रह गई है। हालांकि, तुअर दाल इस अवधि में 84.58 रुपये से 21.46 फीसद महंगी होकर 102.73 रुपये पर पहुंच गई है। उड़द दाल के दाम में 8.20 फीसद का उछाल आया है तो मूंग दाल 27.71 फीसद चढ़ी है।

दूध-चाय भी महंगे

सुबह की चाय भी अब 5 साल पहले जैसी मीठी नहीं रही। चाय की पत्ती के भाव तो बढ़े ही है, दूध भी महंगाई से कड़वी हो गया है, जबकि चीनी सस्ती हुई है। पांच  साल में चीनी के भाव में 2.65 फीसद की कमी आई है, लेकिन दूध के भाव 23.58 फीसद चढ़े हैं।  खुली चाय भी 40.48 फीसद चढ़ी है।

पॉम ऑयल 128.49 फीसद महंगा

अगर खाद्य तेलों की बात करें तो किचन के बजट को बिगाड़ने में सबसे अधिक योगदान इनका है। सरसों तेल पैक पांच साल में 83.26 फीसद उछल कर 101 रुपये से सीधे 185 रुपये पर पहुंच गया है तो मूंगफली तेल भी 45 फीसद की उछाल के साथ 187 रुपये पर है। सबसे अधिक बढ़त पाम तेल, सूरजमुखी, सोया और वनस्पति ऑयल में हुई है। पॉम ऑयल 128.49 फीसद महंगा होकर 69.05 रुपये से सीधे 157.77 रुपये पर पहुंच गया है। जबकि, सूरजमुखी तेल में 122 फीसद का उछाल आया है। वनस्पति तेल 112 फीसद महंगा हुआ है।

नमक भी हुआ महंगा

नमक पांच साल में 29.44 फीसद महंगा हुआ है। पांच साल पहले इसकी कीमत 15.08 रुपये हुआ करती थी, जो अब औसतन 19.52 रुपये प्रति किलो पहुंच गई है। आलू की बात करें तो इसके रेट में 67.18 फीसद का इजाफा हुआ है। प्याज पांच साल में 64.68 फीसद तो टमाटर 193.32 फीसद चढ़ा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.