मधुबनी को मिला पूरे देश में स्वच्छता सर्वे में दूसरा स्थान और बिहार का नंबर 1 स्वच्छ स्टेशन

खबरें बिहार की

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती…जी हां कुछ ऐसा ही कर दिखाया है मधुबनी के लोगों ने और मधुबनी रेलवे स्टेशन प्रशासन ने। कौन कह सकता है जिस मधुबनी रेलवे स्टेशन को देश का सबसे गंदा स्टेशन में शुमार किया गया वह कुछ ही वर्षो बाद अपनी मेहनत और काबलियत से अपना भविष्य बदल देगा। ताजा अपडेट अनुसार स्वच्छा को लेकर मधुबनी रेलवे स्टेशन को देश भर में दूसरा स्थान मिला है।

madhubani station artist

जानकारी अनुसार केंद्र सरकार द्वारा स्वच्छता को लेकर तय मानक के अनुसार राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न रेलवे स्टेशनों का सर्वे किया जाता है। समस्तीपुर रेल मंडल के सीनियर डीसीएम वीरेंद्र कुमार ने बताया कि इस वर्ष इस सर्वे को मधुबनी को पूरे देश भर में दूसरा स्थान मिला है।

madhubani station artist

बताते चले कि बिहार के मधुबनी रेलवे स्टेशन जो कभी गंदगी को लेकर अव्वल दर्जे का स्थान पाकर सुर्ख़ियों में रहता है तो कभी मिथिला पेंटिंग को लेकर देश से लेकर विदेशों तक चर्चा का विषय बन जाता है। करीब एक साल पहले रेल मंत्रालय की ओर से स्वच्छता को लेकर कराए गए एक सर्वेक्षण में मधुबनी रेलवे स्टेशन को देश का सबसे गंदा रेलवे स्टेशन का दर्जा दिया गया था, जिसके अधिकारीयों को काफी फजीहत झेलनी पड़ी थी।

station madhubani painting

फजीहत से सिख लेते हुए अधिकारीयों ने एक साल के अंदर मिथिला पेंटिंग के साथ स्टेशन पर प्रयोग करते हुए ऐसा काम कर दिखाया कि अब मधुबनी रेलवे स्टेशन को ‘ए’ श्रेणी का दर्जा मिल चुका है। इस बाबत समस्तीपुर रेल प्रमंडल के डीआरएम आरके जैन ने बताया कि मधुबनी स्टेशन अब ‘ए’ क्लास स्टेशन कि श्रेणी में आ चूका है। अब यहाँ क्लास वन स्टेशन कि तरह हर सुविधा रहेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *