मधुबनी बना देश का दूसरा सबसे सुंदर रेलवे स्टेशन, रेलवे ने दिया पांच लाख का इनाम

खबरें बिहार की

पटना: मधुबनी रेलवे स्टेशन देश का दूसरा सबसे सुन्दर रेलवे स्टेशन बन गया है। स्थानीय कलाकारों की मेहनत और अभियान ने रंग लाया। मधुबनी रेलवे स्टेशन स्वच्छ होने के साथ साथ सुन्दर बना तो बिहार को इसके लिए इनाम मिला। मधुबनी रेलवे स्टेशन को  द्वितिय पुरस्कार के रूप में पांच लाख रुपए की राश दी गई है।

जानकारी अनुसार रेल भवन में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उन सभी कलाकारों को सम्मानित किया जिसके अथक प्रयास से मधुबनी रेलवे स्टेशन का कायाकल्प हुआ। रेलमंत्री ने 253 कलाकारों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।

62 रेलवे स्टेशन ने लिया था इस प्रतियोगिता में भाग
रेलवे द्वारा आयोजित इस स्वच्छता प्रतियोगिता में कुल 62 रेलवे स्टेशनों ने हिस्सा लिया था। इसमें सेंट्रल रेलवे के ब्ल्लारशाह और चंद्रपुर को संयुक्त रूप से पहला पहला स्थान मिला और दस लाख की राशि दी इनाम स्वरूप दी गई। तीसरा पुरस्कार गांधीधाम, सिकंदराबाद और कोटा स्टेशन को दिया गया

बिहार के सबसे गंदे स्टेशनों में शामिल था मधुबनी
एक समय मधुबनी स्टेशन का नाम बिहार के सबसे गंदे स्टेशन के रूप में लिया जाता था। लेकिन क्राफ्टवाला के अथक प्रयास ने और स्थानीय कलाकारों के सहयोग ने असंभव को संभव कर दिखाया। डीआरएम आरके जैन और तत्कालीन आईआरएएस गणनाथ झा ने मिलकर एक नया विश्व कीर्तिमान बनाते हुए लगभग 18 हजार वर्गफुट में मिथिला पेंटिंग से मधुबनी स्टेशन को सजाने का काम किया।

madhubani station artist

बताते चले कि मधुबनी मिथिला पेंटिंग के लिए मशहूर है। यहां की चित्रकला देश में ही नहीं, बल्कि दुनिया में जानी जाती है। जैसा मधुबनी रेवले स्टेशन को तैयार किया गया है ठीक वैसे ही गुजरात के गांधीधाम को सजाया गया है। यहां गुजरात की संस्कृति को दीवारों पर उकेरा गया है। राजकोट में भी ठीक ऐसा ही किया गया है।

Source: Live Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published.