लंदन और अफ्रीका से पटना आए 3 लोगों समेत 11 संक्रमित मिले, राज्य में 17 नए केस

खबरें बिहार की

पटना में लंदन और दक्षिण अफ्रीका से आए तीन समेत 11 लोग कोरोना से संक्रमित पाये गए हैं। पिछले 10 दिनों में बुधवार को सबसे अधिक कोरोना संक्रमित मिले। वहीं, रोहतास व समस्तीपुर में 2-2 संक्रमित पाए गए। इसके अलावा वैशाली में 1 मरीज मिला तथा दूसरे राज्य से बिहार आया एक व्यक्ति भी कोरोना संक्रमित पाया गया।

इन चार जिलों को छोड़कर अन्य 34 जिलों में कोई भी नया मरीज नहीं मिला। इसके पूर्व राज्य में 14 दिसंबर को 16 नए मरीज मिले थे, उससे पहले 12 दिसंबर को 23 सक्रिय मरीज मिले थे। पटना संक्रमण के मामले में राज्य में पहले स्थान पर है। बिहार में अब कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 86 पहुंच गई है। एक दिन पहले तक यह 77 थी।

 

पटना में 12 दिसंबर को तेरह संक्रमित मिले थे। बुधवार को लंदन से आने वाले जो दो संक्रमित मिले हैं वह एक ही परिवार के हैं। ये लोग जफर कॉलोनी के रहने वाले हैं। दक्षिण अफ्रीका से आए 29 वर्षीय युवक आईएएस कॉलोनी के पास स्थित एक अपार्टमेंट का रहने वाला है। सिविल सर्जन डॉ. विभा कुमारी सिंह ने बताया कि दक्षिण अफ्रीका से आए संक्रमित में कोई लक्षण नहीं दिखा है। सभी 11 संक्रमितों में हल्के लक्षण हैं। उन्होंने बताया कि विदेश से आए लोगों की सूची के आधार पर इनकी जांच कराई गई थी। 

 

इसके अलावा बहादुरपुर हाउसिंग कॉलोनी से एक 60 वर्षीय महिला संक्रमित पायी गई है। एजी कॉलोनी से एक मरीज मिला है। वहीं, दौलत चक से 60 वर्षीय महिला संक्रमित हुई है। स्टेशन रोड से 24 वर्षीय एक युवती संक्रमित मिली है। कृष्णानगर से एक 57 वर्षीय महिला और किदवईपुरी से 62 वर्षीय पुरुष संक्रमित मिले हैं। 

 

पालीगंज में दो बच्चा भी संक्रमित

बुधवार को आई जांच रिपोर्ट में पालीगंज के बाबा बोरिंग रोड से तीन संक्रमित मिले हैं, जिसमें दो बच्चे हैं। इसमें एक दो साल का और दूसरी पांच साल की बच्ची है। वहीं एक वयस्क है। ये सभी एक ही परिवार के हैं। बच्चों में सर्दी-खांसी के लक्षण थे।

जीनोम सिक्वेंसिग के लिए भेजा जाएगा सैंपल

सिविल सर्जन ने बताया कि लंदन और दक्षिण अफ्रीका से आए संक्रमितों का सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा जाएगा। इस संबंध में विश्व स्वास्थ्य संगठन को सूचना दे दी गई है। अब तक बिहार में ओमीक्रोम वेरिएंट का एक भी केस नहीं मिला है। सिविल सर्जन ने बताया कि बुधवार को जिन संक्रमितों की पहचान हुई, उनमें से आठ लोग स्थानीय है।

 

कांट्रैक्ट ट्रेसिंग से रखी जा रही है नजर

सिविल सर्जन के अनुसार अभी पटना में जो केस मिल रहे हैं उनकी कांटैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। विभिन्न क्षेत्रों में एक-दो केस मिल रहे हैं। जो संक्रमित मिल रहे हैं उनकी इच्छानुसार और संक्रमण की स्थिति देखते हुए होम आइसोलेशन में ही रखा जा रहा है। साथ ही उनपर मेडिकल टीम लगातार नजर रख रही है। बुधवार को जो 11 संक्रमित मिले उनमें आठ वैक्सीन की दूसरी डोज भी ले चुकेहैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.