विपक्ष को छोड़िये, राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने ही खोल दी सरकार की पोल

राजनीति

पटना: बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने आज बड़ा खुलासा कर सबको चौंका दिया. राज्यपाल बनने के बाद पहली बार उन्होंने सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने बिहार के बीएड कॉलेजों के बारे जो कहा है उससे नीतीश सरकार को एक बार सोचना होगा. उन्होंने कहा कि बिहार में बीएड कॉलेज का बड़ा कारोबार है और बिहार का शायद ही कोई नेता होगा जिसका बीएड कॉलेज नहीं है. इन कॉलेजों में गैरकानूनी तरीके से दाखिला होता है. उन्होंने यहां तक कह दिया कि उन्हें इस बात की खुलासा करने में कोई डर नहीं है.

राज्यपाल ने ए एन कॉलेज के युवा महोत्सव को संबोधित करते हुए कहा कि अधिसंख्य बीएड कॉलेज नेताओं के हैं, एकीकृत परीक्षा एकीकृत प्रवेश परीक्षा से इन कॉलेजों में गलत-सलत नामांकन लेने की प्रक्रिया बंद हो जाएगी. उन्होंने कहा कि कुछ लोग हैं जो एकीकृत प्रवेश परीक्षा का विरोध कर रहे हैं, लेकिन मैं वही करूंगा जो छात्रों के हित में और संविधान के दायरे में होगा.

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा युवाओं को संबोधित करते हुए बताया कि सभी बीएड कॉलेज हैं किसी न किसी नेता के है इसलिए जब बात कॉमन इंट्रेंस टेस्ट की हुई तो विरोध शुरू हो गया लेकिन इससे फर्क नही पड़ेगा। इस वर्ष से बीएड में नामांकन कॉमन इंट्रेंस टेस्ट के जरिये ही होंगे.

उन्होंने कहा कि बिहार आने के बाद आभास हुआ कि यहां के छात्रों में असीम उर्जा है, भारत को शिक्षा के क्षेत्र में यदि अगला नोबेल पुरस्कार मिलता है तो वह बिहार के छात्र ही होंगे. विश्वविद्यालयों में छात्र संघ चुनाव को लेकर भी काफी आशंकाएं हो रही थी लेकिन लेकिन छात्रों ने सभी आशंकाओं को दूर कर दिया. पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ का चुनाव सभी विश्वविद्यालयों के लिए मानक है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.