lalu and son

Lalu एंड sons के खिलाफ अब दर्ज हुआ धोखाधड़ी का मुकदमा

खबरें बिहार की

राजद के मुखिया लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार पर संकट गहराता जा रहा है। शुक्रवार को पटना सिटी व्यवहार न्यायालय के न्यायिक दंडाधिकारी आशुतोष राय की अदालत में Lalu और उनके दोनों बेटे तेजस्वी एवं तेजप्रताप के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज हुआ।

यह मुकदमा पटना सिटी के जीतू लाल लेन निवासी रामजी योगेश ने किया है। मामले में अगली सुनवाई 17 अगस्त को होगी। वादी की ओर से दायर परिवाद पर संज्ञान लेते हुए एसीजेएम ने मामले को आशुतोष राय की अदालत में भेजा था।

मामले में पूर्व मुख्यमंत्री Lalu और उनके दोनों बेटों के अलावा अन्य ओम प्रकाश यादव, शिवनंदन भारती और विमलेश यादव को अभियुक्त बनाया गया है। आरोप के अनुसार परिवादी ने गरीब दस्ता नामक संगठन का निबंधन कराया था, लेकिन बाद में इसका नाम बदल कर धर्म निरपेक्ष सेवक संघ कर दिया गया।




इसकी सूचना निबंधन विभाग को दे दी गई थी। Lalu प्रसाद और तेज प्रताप को इस संस्था का संरक्षक बनाया गया। परिवादी ने आरोप लगाया है कि इस संगठन को हड़पने के लिए आरोपितों ने संबंधित विभाग को पत्र लिखा और बेजा फायदा उठाया। अपने प्रचार-प्रसार के लिये संगठन के नाम के साथ धोखाधड़ी भी की जा रही है। कोर्ट ने मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख 17 अगस्त मुकर्रर की है।




lalu and son




lalu and son



Leave a Reply

Your email address will not be published.