लालू ने कहा गर्व का विषय है कि अटलजी के नाम मे बिहारी भी था, आप बहुत याद आओगे

राष्ट्रीय खबरें

पटना: अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर देश का हर शख्स शोकाकुल है. क्या विपक्ष, क्या दुश्मन ऐसा लग रहा हैं कि उनके निधन पर पूरा देश रो रहा है. अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने कहा कि भारतीय राजनीति में एक युग का अंत। वाजपेयी जी के निधन से मैनें एक मित्र और अभिभावक खो दिया हैं।वो उस राजनीतिक धारा के आखिरी स्तम्भ थे जहां परस्पर विरोधी राजनीतिक विचारधारा के लोग सहज और शालीन संवाद कर सकते थे।और हां! गर्व का विषय है कि अटलजी के नाम मे बिहारी भी था।आप बहुत याद आओगे.

तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट कर श्रधांजली दी:

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा:

मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी के रूप में देष ने सबसे बड़े राजनीतिक शख्सियत के साथ ही प्रखर वक्ता, कवि, लेखक, चिंतक, विचारक और करिष्माई व्यक्तित्व को खो दिया है. अटल बिहारी वाजपेयी ने उच्च राजनीतिक मूल्यों एवं आदर्षाें की बदौलत सार्वजनिक जीवन में उच्चस्थ षिखर को प्राप्त किया.

उन्होंने अपने व्यक्तित्व की बदौलत राजनीतिक सीमाओं के परे सभी विचारधारा की राजनीतिक दलों का आदर एवं सम्मान प्राप्त किया. अटल जी में सभी विचारधारा के लोगों को साथ लेकर चलने की अद्भूत क्षमता थी. उन्होंने अपने जीवन में लोकतांत्रिक मूल्यों को सर्वोपरि रखा.

उनके नेतृत्व में देश का चहँुमुखी विकास हुआ तथा विश्व पटल पर एक सशक्त राष्ट्र के रूप में अपनी छवि स्थपित की. उन्होंने हमेशा साम्प्रदायिक सौहार्द एवं सामाजिक सद्भाव के मूल्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता दी.

मुख्यमंत्री ने अटल जी के निधन को व्यक्तिगत क्षति बताते हुये कहा है कि उन्हें सदैव अटल जी का स्नेह एवं मार्गदर्षन प्राप्त होता रहा तथा उनसे सार्वजनिक जीवन में काफी कुछ सीखने को मिला. उन्होंने कहा कि अटल जी के निधन से उन्होंने अपना अभिभावक खो दिया है. मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की चिर शांति तथा सभी को इस दुःख की घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है.

Source: DBN News

Leave a Reply

Your email address will not be published.