लालू प्रसाद को मिला जीतनराम मांझी का साथ, कह दी ये बड़ी बात

राजनीति

पटना: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (से.) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने कहा है कि राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद को दिल्ली एम्स से रांची भेजने का आदेश दिया गया है. कुछ दिन पहले दिल्ली एम्स के चिकित्सकों ने लालू प्रसाद जी का स्वास्थ्य संतोषप्रद नहीं बताया था. ऐसे में कैसे इतनी जल्द वे फिट हो गये कि उन्हें रांची भेज दिया गया.

मीडिया से मुखातिब होते हुए जीतनराम मांझी ने कहा कि लालू जी की हार्ट सर्जरी हो चुकी है, वे हृदय रोग से ग्रसित हैं. इतना ही नहीं, उनकी किडनी भी संक्रमित है. शुगर की बीमारी तो अलग ही है. यह भी कहना अप्रासंगिक नहीं होगा कि मनोवैज्ञानिक स्थिति को देखते हुए उनको मनोचिकित्सा की आवश्यकता है.

ह्रदय रोग, किडनी की ख़राबी, शुगर (मधुमेह) की बीमारी एवं मानसिक स्थिति को देखते हुए जीतन राम मांझी ने कहा कि लालू प्रसाद को रांची भेजने का कोई औचित्य नहीं. भारत सरकार दुराग्रह से प्रेरित होकर एम्स पर दबाव डालकर लालू प्रसाद को रांची भेजा जा रहा है. भारत सरकार के लिए यह कोई नई बात नहीं है क्योंकि केन्द्र सरकार न्यायालय को भी प्रभावित कर जब अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण में 1989 को निष्प्रभावी बना सकते हैं, तब फिर लालूजी के साथ दुराग्रह से प्रभावित होकर रांची भेजने का कार्य क्यों नहीं करेंगे.

पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा कि मैं केन्द्र सरकार द्वारा या एम्स प्रशासन द्वारा लालू प्रसाद को रांची भेजने के आदेश की निंदा करता हूं एवं हर हाल में लालू प्रसाद के जीवन की रक्षा के लिए केन्द्र सरकार से मांग करता हूं कि उन्हें दिल्ली एम्स में ही रखा जाने का आदेश दें।

Source: dbn news

Leave a Reply

Your email address will not be published.