15 बीमारियों से जूझ रहे लालू का नहीं कम हो रहा शुगर लेवल, 44 यूनिट इंसुलिन के साथ खाने पर भी नजर

खबरें बिहार की

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव 15 बीमारियों से ग्रस्त होने के कारण रांची के रिम्स में भर्ती हैं। लालू को यहां कार्डियोलॉजी विभाग में भर्ती कराया गया है। डाक्टरों के अनुसार लालू का शुगर लेवल अभी मानक से काफी ऊपर है उसे काबू में लाने की पूरी कोशिश की जा रही है।

डॉक्टर्स उन्हें 44 यूनिट इंसुलिन दे रहे हैं, ताकि उनका शुगर लेवल कम हो। खबरों के अनुसार रविवार को लालू का फास्टिंग ब्लड शुगर 214 था, जोकि ज्यादा था। डॉक्टरों को उम्मीद है कि इंसुलिन से उनके शुगर को कंट्रोल में लाया जा सकता है और उनकी सेहत में फिर जल्द सुधार होगा।


रांची के रिम्स में भर्ती लालू का शुगर लेवल डॉक्टरों की परेशानी बना हुआ है। उनका शुगर अपने मानक से काफी ज्यादा है जिसके कारण डॉक्टर उन्हें 44 यूनिट तक इंसुलिन दे रहे हैं। 15 बीमारियों से जूझ रहे लालू का रिम्स में आने के बाद से इंसुलिन भी बदल दिया गया है।

एम्स में लालू को सामान्य दवा दी जाती थी, लेकिन रिम्स में आने के बाद उनकी दवाइयों को बदल कर ब्रांडेड कर दिया गया है। रिम्स के डॉक्टर एम्स के डॉक्टर के अंडर में ही राजद सुप्रीमो का इलाज कर रहे हैं।

लालू की सेहत में सुधार लाने के लिए डॉक्टर चौबीस घंटे उनका ध्यान रख रहे हैं। शुगर लेवल को कम करने के लिए उन्हें इंसुलिन दिया जा रहा है लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि अगर अचानक से इसकी मात्रा बढ़ा दी गई, को उन्हें हाइपोग्लोसिमिया होने का खतरा है।

फिलहाल लालू को टहलने और ताजा खाना खाने के लिए कहा गया है। लालू का आज मेडिकल टेस्ट किया जाएगा, जिसके बाद डॉक्टर्स आगे के इलाज के बारे में चर्चा करेंगे। अभी हाल ही में लालू को खराब खाने मिलने पर बवाल हो गया था।

लालू को नाश्ते में सड़ा हुआ अंडा दिया गया था। इसके बाद बवाल मचने के बाद खाना बनाने से लेकर पैक करने, वॉर्ड में जाने से लेकर परोसने तक की जिम्मेदारी प्रबंधन ने अलग-अलग लोगों को दे दी।

लालू प्रसाद यादव 1 मई को रांची के रिम्स में भर्त हुए थे। उन्हें दिल की बीमारी, हाइपरटेंशन, किडनी की तकलीफ, डिप्रेशन समेत कुल 15 बीमारियां हैं, जिसका इलाज चल रहा है। एम्स में इलाज पूरा हो जाने के बाद लालू को रिम्स लाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.