क्या जमुई छोड़कर हाजीपुर से 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं चिराग पासवान ?

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई है। लोजपा रामविलास के अध्यक्ष चिराग पासवान अपनी जमुई को छोड़कर हाजीपुर से चुनाव लड़ सकते हैं। हाजीपुर से अभी उनके चाचा और लोक जनशक्ति पार्टी के मुखिया पशुपति पारस सांसद हैं। यह सीट चिराग के पिता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की परंपरागत सीट रही है। आगामी चुनाव में वे हाजीपुर सीट से अपने चाचा पशुपति पारस के खिलाफ मैदान में उतर सकते हैं।

चिराग पासवान ने हाजीपुर में उन्होंने अपनी गतिविधियां तेज कर दी हैं। वे स्थानीय नेताओं से नजदीकियां बनाने में जुटे हैं। पूर्व मंत्री भोला राय उर्फ उदय नारायण के निधन पर शुक्रवार को उनके परिजन से मिलने हाजीपुर पहुंचे। भोला राय के रामविलास पासवान से अच्छे संबंध रहे थे। इस दौरान उन्होंने स्थानीय लोगों से भी मुलाकात की। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि वे हाजीपुर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं।

लोजपा रामविलास ने चिराग पासवान का एक वीडियो भी जारी किया। इसमें वे हाजीपुर में महिलाओं के साथ डांडिया खेलते हुए नजर आ रहे हैं। इस दौरान चिराग ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि वे उन्हें कंस मामा समझते हैं, जो अपनी कुर्सी बचाने के लिए तमाम सियासी वध करते रहते हैं।

हाजीपुर में चाचा-भतीजा होंगे आमने-सामने

रामविलास पासवान के निधन के बाद लोजपा में दो फाड़ हो गई थी। रामविलास के भाई पशुपति पारस ने पार्टी के सांसदों को अपनी तरफ कर लिया था और चिराग अलग-थलग पड़ गए थे। रामविलास की विरासत पशुपति पारस ने अपने पास रखी। वहीं, चिराग पासवान को लोजपा रामविलास नाम से अलग पार्टी बनानी पड़ी। इस दौरान उनका एनडीए से भी नाता टूट गया। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि अगर आगामी चुनाव में पशुपति पारस हाजीपुर से चुनावी मैदान में उतरते हैं, तो चिराग पासवान एनडीए से अलग रहकर ही उनके खिलाफ लड़ सकते हैं। चिराग अभी जमुई से सांसद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.