सिंघम और दबंग का कॉम्बो हैं नालंदा एसपी कुमार आशीष

एक बिहारी सब पर भारी

लोगों की सुरक्षा पुलिस प्रशासन के हाथों में रहती है. अगर पुलिस कप्तान जवानों के साथ कदम दर कदम मिलाकर चलता है तो आम जन सुकून से रहता है.

सभी ने पटना एसएसपी मनु महाराज के कारनामे के किस्से सुने होगें जो अपनी कार्यकुशलता के लिए जाने जाते हैं. दबंग शिवदीप लांडे को भी कैसे भुलाया जा सकता है जो कहीं भी एक बुलावे पर निकल पड़ते हैं और अपराधियों से निपटने के लिए खुद भीड़ जाते हैं.

कुछ ऐसा ही कारनामा आजकल नालंदा एसपी कुमार आशीष कर रहे हैं जिसके कारण आम जनता के बीच सराहे जा रहे हैं. पटना के एसएसपी मनु महाराज की तरह ही वो नालंदा में शहरी और ग्रामीण इलाकों में निरीक्षण करने के लिए बिना सरकारी वाहन के निकल जाते हैं भेष बदल कर ताकि कोई उन्हें पहचान नही सके और पुलिस कार्यप्रणाली को अपने आंखो से आम जनता कि तरह देख सकें.
आधी रात में नालंदा मुख्यालय स्थित बिहार शरीफ में कई जगह खुद वाहन चेकिंग में लग जाते हैं जहां से शिकायत मिलती है वहां खुद पहुँच जाते हैं और दबंग शिवदीप लांडे की तरह टूट पड़ते हैं अपराधियों पर.

ऑपरेशन ‘मून लाइट’ चलाकर चर्चा में रहने वाले नालंदा पुलिस अधीक्षक ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार के शराबबंदी को सार्थक साबित करने में जुटे हुए हैं. लगातार नालंदा जिला में शराब कारोबारियों और शराब माफिया के ऊपर कार्रवाई करते रहते हैं जिला में कानून व्यवस्था को लेकर खुद शहर से लेकर गांव-गांव तक जाकर इसका जायजा लेते दिख जाते हैं.

 

नालंदा पुलिस कप्तान कुमार आशीष द्वारा चलाया जा रहा यह अभियान पुरे बिहार में चर्चा का विषय बन चूका है. खुद सीएम नीतीश कुमार ने उनकी इस अभियान की तारीफ की है. उनके द्वारा चलाये जा रहे ऑपरेशन ‘मून लाइट’ के अंतर्गत हरियाणा, झारखण्ड से आ रहे शराबों को पकड़ने का सिलसिला तो जारी है साथ ही अपराधियों को दबोचा जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.