कुढ़नी में भी तेजस्वी की आरजेडी का खेल खराब करेंगे ओवैसी, AIMIM का उपचुनाव लड़ने का ऐलान

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार की कुढ़नी विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में भी असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव की आरजेडी का खेल बिगाड़ेंगे। AIMIM ने कुढ़नी में उपचुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। हाल ही में गोपालगंज में हुए चुनाव में भी ओवैसी की पार्टी ने उम्मीदवार उतारा था और 12 हजार से ज्यादा वोट हासिल कर आरजेडी को नुकसान पहुंचाया।

एआईएमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष अख्तरूल इमान ने कहा है कि उनकी पार्टी ने कुढ़नी उपचुनाव लड़ने की तैयारी शुरू कर दी है। विधानसभा क्षेत्र में इसके लिए सर्वे किया जा रहा है। मजबूत उम्मीदवार की तलाश जारी है। जल्द ही प्रत्याशी के नाम की घोषणा कर दी जाएगी।

कुढ़नी में 5 दिसंबर को वोटिंग

मुजफ्फरपुर जिले की कुढ़नी विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए 5 दिसंबर को मतदान होगा। वोटों की गिनती 8 नवंबर को होगी। नामांकन की प्रक्रिया 10 नवंबर से शुरू हो जाएगी। आरजेडी के अनिल साहनी के एलटीसी घोटाले में सजा मिलने के बाद उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द कर दी गई, जिसके बाद कुढ़नी में उपचुनाव की नौबत आई है। महागठबंधन से इस सीट पर आरजेडी के ही किसी उम्मीदवार को टिकट दिए जाने की संभावना है।

तेजस्वी यादव AIMIM को बता चुके हैं बीजेपी की बी टीम

गोपालगंज और मोकामा में इस महीने हुए उपचुनाव से पहले डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने ओवैसी की पार्टी को बीजेपी की बी टीम करार दिया था। इस पर सियासी घमासान मचा और ओवैसी ने पलटवार करते हुए तेजस्वी को अपने गिरेबान में झांकने की नसीहत दे दी थी।

एक दिन पहले जारी हुए उपचुनाव के नतीजों में गोपालगंज सीट पर आरजेडी प्रत्याशी को बीजेपी से महज 1789 वोटों से हार का सामना करना पड़ा। इसी सीट पर AIMIM के प्रत्याश अब्दुल सलाम को 12 हजार से ज्यादा वोट मिले। चुनावी विश्लेषकों का मानना है कि ओवैसी की पार्टी ने आरजेडी के वोटबैंक में सेंधमारी की, नहीं तो चुनाव नतीजे तेजस्वी यादव की पार्टी के पक्ष में हो सकते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.