राम मंदिर के दर्शन के लिए अयोध्या के बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए बिहार का महावीर मंदिर ट्रस्ट सामुदायिक भोज की व्यवस्था करेगा। उच्चतम न्यायालय के फैसले से उत्साहित ट्रस्ट के सचिव किशोर कुणाल ने पहले घोषणा की थी कि पटना की यह धार्मिक संस्था राम लला के मंदिर निर्माण के लिए 10 करोड़ रुपए का योगदान देगी।

अब ट्रस्ट अयोध्या में हालात सामान्य होने का इंतजार कर रहा है ताकि वह यहां सामुदायिक रसोईघर का निर्माण आरंभ करवा सके। ट्रस्ट की योजना इस रसोई में श्रद्धालुओं के लिए नियमित भोजन और ‘रघुपति लड्डू’ बनाने की है।

कुणाल ने बताया कि महावीर ट्रस्ट ने यह राशि दान करने का संकल्प पांच वर्ष पहले लिया था। उच्चतम न्यायालय ने रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए एक ट्रस्ट के गठन का आदेश दिया है। कुणाल के अनुसार, 10 करोड़ रुपए की यह राशि उसी ट्रस्ट को किश्तों में दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि यह मानते हुए कि मंदिर निर्माण में पांच वर्ष लगेंगे, मंदिर ट्रस्ट को वार्षिक दो करोड़ की किश्त दी जाएगी। यदि मंदिर इससे पहले तैयार हो जाता है तो उस अवधि में पूरा कोष दे दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष जनवरी में ट्रस्ट ने सीता के जन्म स्थान सीतामढ़ी में ‘सीता रसोई’ नाम से सामुदायिक रसोई शुरू की। अब अयोध्या में भी रामजन्मभूमि स्थल के निकट इसी तरह की रसोई शुरू की जाएगी जिसका नाम ‘राम रसोई’ होगा।

Sources:-Hindustan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here