किसी भी पेय पदार्थ पर प्रतिबंध लगाना मानसिक दिवालियापन’, शराबबंदी पर राजद MLA का नीतीश पर वार

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के छपरा जिले में बीते 24 घंटे के दौरान जहरीली शराब के कारण 14 लोगों के मरने की खबर आई है। इस बीच शराबबंदी की नीति को लेकर नीतीश कुमार के फैसले पर एक बार फिर से सवाल उठ रहे हैं। इस कड़ी में उनके अपने खेमे के लोग भी पीछे नहीं हैं। सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ हमेशा से तल्ख तेवर अपनाने वाले राजद विधायक और पूर्व मंत्री सुधाकर सिंह ने भी शराबबंदी के फैसले को लेकर सीएम नीतीश पर निशाना साधा है। राजद विधायक ने मुख्यमंत्री को मानसिक दिवालियापन से ग्रसित बताया है।

शराब पीना क्रिमिनल एक्ट नहीं- राजद विधायक

राजद विधायक सुधाकर सिंह ने कहा कि मेरा मत स्पष्ट है कि किसी भी खाद्य पदार्थ या पेय पदार्थ पर प्रतिबंध लगाना मानसिक दिवालियापन है। आप प्रतिबंध नहीं लगा सकते। जागरूकता और परामर्श के माध्यम से आपको लोगों को यह समझाना चाहिए कि शराब का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। राजद विधायक ने आगे कहा कि शराब का सेवन करना क्रिमिनल एक्ट का हिस्सा नहीं बल्कि सिविल एक्ट का हिस्सा है। कई चीजें हैं जो गलत हैं लेकिन उनके लिए किसी को जेल भेजना न्यायोचित नहीं है।

सारण में जहरीली शराब से 14 की मौत

बता दें कि सारण जिले में बुधवार को जहरीली शराब से 14 लोगों के मरने की खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि सभी ने मिलकर एक साथ सोमवार की रात को शराब का सेवन किया था। इसके बाद मंगलवार के दिन से उनकी हालत बिगड़ने लगी। शाम में सभी को मसरख स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। वहां इलाज के बाद छपरा रेफर किए जाने पर तीन लोगों की मौत हो गई थी। अबतक छह लोगों के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लायागया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *