वैसे तो भारत के सभी एथलीट्स से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही है, लेकिन भारत की एक बेटी ऐसी भी है, जिससे गोल्ड की पक्की उम्मीद की जा रही है। जी हां, हम बात कर रहे हैं पंजाब की एथलीट खुशबीर कौर की, जो 20 किलोमीटर वॉक इवेंट की एथलीट हैं।

एशियन गेम्स में सिल्वर
आपको बता दें कि भारत की इस प्रतिभाशाली बेटी ने साल 2014 में एशियन गेम्स में सबको चौंकाते हुए सिल्वर मेडल जीता था, इस जीत के साथ ही उनकी जिंदगी ही बदल गई। कहा जा रहा है कि पिछले कुछ समय से वो लगातार जकार्ता एशियन गेम्स की तैयारी कर रही है,

इस बार उनकी नजर गोल्ड मेडल पर है, उन्हें इस मेडल का हकदार कहा जा रहा है।

गरीब परिवार से नाता
खुशबीर बेहद गरीब परिवार से नाता रखती हैं, आप खुद इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि उनका परिवार बारिश से बचने के लिये गौशाला में सोता था। आर्थिक तंगी की वजह से उनके परिवार को दो समय भरपेट भोजन भी नहीं मिल पाता था।

खुशबीर जब 6 साल की थी, तभी उनके पिता का निधन हो गया, उसके बाद उनकी मां ने 4 बेटियों और एक बेटे को पाला।

मां करती हैं सिलाई
खुशबीर की मां ने अपनी चार बेटियों और एक बेटे को बड़ी मुश्किल से पाला है, इसके लिये उन्हें सिलाई और दूध बेचने तक का काम करना पड़ा, हालांकि तमाम मुश्किलों को झेलते हुए उन्होने किसी तरह अपने बच्चों को बड़ा किया, अब उनकी बेटी देश का नाम रोशन कर रही है,

पूरा देश अब उनकी बेटी खुशबीर पर गर्व महसूस कर रहा है।

पंजाब पुलिस में डीएसपी 
हालांकि 2014 एशियन गेम्स में सिल्वर मेडल जीतने के बाद खुशबीर और उनके परिवार की जिंदगी बदल गई, पंजाब सरकार ने उन्हें डीएसपी पद ऑफर किया था, जिन्हें उन्होने सहर्ष स्वीकार कर लिया, हालांकि खुशबीर अपना मुश्किल भरा बचपन अभी भूल नहीं पाई हैं,

उनका कहना है कि जकार्ता में उन्हें गोल्ड से कम कुछ भी मंजूर नहीं होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here