खुले में कचरा जलाने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई, धुआं  वाले वाहनों की जांच तेज होगी, निर्माण ढंककर हो, आदेश जारी

जानकारी

बिहार में ठोस कचरे को खुले जलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई जाएगी। नगर विकास विभाग से कहा गया है कि हेल्पलाइन जारी कर इस संबंध में आ रही शिकायतों का जल्द निस्तारण करें।

राज्य में प्रदूषण बढ़ने के बीच नेशनल क्लीन एयर प्रोग्राम (एनसीएपी) के तहत स्टीयरिंग कमेटी की मंगलवार को हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया। पटना, गया और मुजफ्फरपुर में मौसम बदलने के साथ ही वायु गुणवत्ता सूचकांक खतरनाक स्तर पार करने के बाद स्थिति नियंत्रण पर विचार किया गया। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में नगर विकास विभाग से कहा गया कि ठोस कचरा खुले में जलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करें।

भवन निर्माण और पथ निर्माण विभाग से कहा गया खुले में भवन निर्माण व तोड़फोड़ गतिविधियों का आंकलन करें। खुले में भवन निर्माण को रोकें। ऐसे निर्माण स्थलों को कवर करें और जल छिड़काव कराएं। मेकेनिकल स्वीपर मशीन से सड़क पर बिखरे धूल कणों की सफाई की जाएगी। परिवहन विभाग से कहा गया है कि वाहन उत्सर्जन जांच केंद्र का औचक निरीक्षण किया जाए। बैठक में बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग, नगर विकास व आवास विभाग के प्रधान सचिव, परिवहन विभाग, कृषि विभाग, ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव सहित कई अधिकारियों ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.