खेलों में कैसे रुचि लेंगे बच्चेः राज्य के 300 शारीरिक शिक्षक सीखेंगे खेलों के गुर, 6 से 27 जुलाई तक चलेगा आवासीय प्रशिक्षण

खबरें बिहार की जानकारी

शिक्षा विभाग ने राज्य के सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों को विभिन्न खेलों में दक्ष बनाने तथा उनके बीच अभिरुचि बनाने के लिए विशेष पहल की है। पहली बार बड़े पैमाने पर राज्य के हाईस्कूलों व प्लसटू में कार्यरत शारीरिक शिक्षकों को राज्यस्तरीय प्रशिक्षण दिया जाएगा। राजधानी पटना के पाटलिपुत्र खेल परिसर में 6 से लेकर 27 जुलाई तक यह आवासीय प्रशिक्षण चलेगा।

बिहार शिक्षा परियोजना परिषद इस प्रशिक्षण को यूनिसेफ के सहयोग से संचालित करेगा। बीईपी की अपर राज्य परियोजना निदेशक किरण कुमारी के नेतृत्व में यह 18 दिवसीय प्रशिक्षण होगा। बीईपी के राज्य परियोजना निदेशक असंगबा चुबा आओ ने प्रशिक्षण में संबंधित जिलों के शारीरिक शिक्षकों के ससमय भेजने को लेकर हाल ही सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश भेजा है। सरकारी स्कूल के बच्चों को स्पोर्ट्स में विशेषज्ञ बनाने को लेकर महती पहल के तहत शारीरिक शिक्षकों का यह अबतक का सबसे बड़ा प्रशिक्षण कार्यक्रम होगा।

50 के छह बैच में किये जायेंगे प्रशिक्षित

इससे पहले मॉडल स्कूलों के एक-एक शिक्षकों का प्रशिक्षण 2017 में हुआ था। महज दूसरी बार के इस वृहत प्रशिक्षण के तहत 300 शारीरिक शिक्षकों को खेल गतिविधियों के संचालन को लेकर दक्ष बनाने की तैयारी है। जानकारी के अनुसार हर बैच का प्रशिक्षण तीन दिवसीय होगा और एक बैच में 50 शिक्षक शामिल होंगे। प्रशिक्षक विजय शंकर के योग प्रशिक्षण से शिविर की रोजाना शुरुआत होगी। एथलेटिक्स कोच व शारीरिक शिक्षक अभिषेक कुमार, यूनिसेफ से जुड़े बसंत कुमार और धर्मेन्द्र कुमार समेत कई प्रशिक्षक ट्रेनिंग में योगदान करेंगे।

होगा मोटिवेशनल स्पीच

राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी और कुछ कोचों को भी मोटिवेशनल स्पीच के लिए शारीरिक शिक्षकों के बीच लाने की तैयारी है। शारीरिक शिक्षकों को खेल के दौरान फर्स्ट एड, चोट निवारण, खेल के लिए जरूरी पौष्टिक आहार की जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा कबड्डी, फुटबॉल, क्रिकेट, खोखो आदि सामान्य खेलों के नियमों से भी अवगत कराया जाएगा।

इस प्रकार होगा प्रशिक्षण

6 से 8 जुलाई के पहले बैच में सभी जिलों के चयनित अनुकरणीय विद्यालय के 50 शिक्षक शामिल होंगे। 11 से 13 जुलाई को अररिया, अरवल, औरंगाबाद, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर एवं मधुबनी के 50, 14 से 16 जुलाई को दरभंगा, पू. चंपारण, गया, गोपालगंज एवं सारण के 50, 18 से 24 जुलाई को जमुई, जहानाबाद, कैमूर, कटिहार, खगड़िया, किशनगंज, लखीसराय, मधेपुरा, मुंगेर, शिवहर एवं मुजफ्फरपुर के 50, 21-24 जुलाई को नालंदा, नवादा, पटना, पूर्णिया, रोहतास, सुपौल एवं सीवान जबकि 25 से 27 जुलाई की कार्यशाला में बक्सर, समस्तीपुर, शेखपुरा, सीतामढ़ी, वैशाली, प. चंपारण एवं सहरसा के 50 शारीरिक शिक्षक शामिल होंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.