कस्तूरबा विद्यालय की 16 बच्चियों ने तैयार किया ब्रिलियंट बैंड, इन पर बनेगी 15 मिनट की डॉक्यूमेंट्री फिल्म

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में सारण जिले के गरखा में स्थित कस्तूरबा विद्यालय की 16 बच्चियों ने मिलकर एक अनोखा बैंड तैयार किया है। इसका नाम ब्रिलियंट बैंड है। इसमें कक्षा 6 से 12 की छात्राएं शामिल हैं। पूरे राज्य में एकमात्र इस कस्तूरबा स्कूल की छात्राओं ने यह कारनामा किया है। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद डाक्यूमेंट्री फिल्म तैयार कर रहा है। 15 मिनट की इस फिल्म को राज्य के सभी 634 कस्तूरबा विद्यालय की बच्चियों को दिखाया जायेगा।

गरीब परिवार की बच्चियां बना रहीं खुद की धुनें

बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की मानें तो हर कस्तूरबा विद्यालय में इस तरह का बैंड शुरू किया जाएगा। इससे बच्चियों में आत्मविश्वास आएगा। इस स्कूल की तरह हर स्कूल का अपना बैंड होगा। स्कूल के जिला कोआर्डिनेटर शंभू कुमार ने बताया कि ये बच्चियां आर्थिक रूप से कमजोर हैं। किसी के पिता रिक्शा तो किसी के पिता ठेला चलाते हैं। बैंड का नाम तक नहीं सुनने वाली ये बच्चियां अब खुद का धुन भी बनाना सीख रही हैं।

खुद का बैंड होने से स्कूल का हर कार्यक्रम बढ़िया होता है। स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस के साथ हर कार्यक्रम में छात्राओं की बैंड टीम शामिल होती है। हर कार्यक्रम से पहले बच्चियां उसका धुन तैयार करती हैं। बच्चियों द्वारा तैयार धुन को ही बजाया जाता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.