JDU में शामिल होंगे कन्हैया कुमार ? भाकपा के राष्ट्रीय सम्मेलन में निंदा प्रस्ताव से नाराज हैं

राजनीति

Patna: विधानसभा चुनाव में तीसरे स्थान पर रही जदयू अपनी ताकत बढ़ाने में जुटी है। पिछले दिनों बसपा के विधायक जमां खां और निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह को जदयू ने अपने खेमे में कर लिया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने के पहले इन दोनों नेताओं की पहले डॉ. अशोक चौधरी से मुलाकात हुई थी। अब सोमवार को भाकपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य कन्हैया कुमार के चौधरी के आवास पर मुलाकात हुई तो सियासी बाजार गर्म हो गया है। कई तरह के अटकल लगाए जाने लगे हैं। लोग चर्चा करने लगे हैं कि क्या कन्हैया कुमार भी जदयू में जाएंगे? मंत्री से मिलने के उद्देश्य पर कन्हैया से बात करने की कोशिश की गई, लेकिन बात नहीं हो सकी। भाकपा की राष्ट्रीय सम्मेलन में कन्हैया कुमार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित होने से वे नाराज चल रहे हैं।

कन्हैया से नहीं हो सकती राजनीतिक बात : भाजपा
भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय मयूख ने कहा कि कन्हैया की मुलाकात जदयू मंत्री से हो सकती है, लेकिन उन्हें विश्वास है कि उनके बीच कोई राजनीतिक बात नहीं हुई होगी। ऐसा सिर्फ इसलिए है कि नीतीश कुमार बिहार के गौरव हैं, जबकि कन्हैया ने बिहार को शर्मसार किया है। उनसे राजनीतिक बात हो ही नहीं सकती है।

इधर नीतीश से मिले सांसद चंदन, लोजपा में बढ़ी बेचैनी
पटना|लोजपा सांसद चंदन सिंह के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद राज्य का सियासी तापमान अचानक बढ़ गया है। खासकर लोजपा में इसे लेकर काफी बेचैनी है। पार्टी के कई नेताओं ने इसके बाद चंदन सिंह से संपर्क करना शुरू किया। हालांकि, चंदन सिंह ने इसे महज शिष्टाचार मुलाकात बताया। लोजपा ने भी इसे अधिक तूल न देने वाला बताया। पार्टी प्रवक्ता अशरफ अंसारी ने कहा कि सांसद का मुख्यमंत्री से मिलना सामान्य बात है। इसमें राजनीति नहीं देखनी चाहिए। उधर, सांसद से जुड़े सूत्रों का कहना है कि चंदन पिछले दिनों बीमार पड़े थे, उस समय मुख्यमंत्री ने उनका हाल-चाल पूछा था। ऐसे में वे आभार व्यक्त करने गए थे।

चौधरी बोले- बखरी में डिग्री कॉलेज के मसले को लेकर आए थे : मंत्री डॉ. अशोक चौधरी ने कहा कि कन्हैया कुमार से उनका बहुत पुराना परिचय है। वे बखरी में डिग्री कॉलेज के मसले को लेकर आए थे। सरकार ने यहां डिग्री कॉलेज मंजूर किया है। जमीन को लेकर विवाद रहा है। इस मुलाकात का कोई राजनीतिक मायने नहीं है।

आरसीपी बोले- हम तो चाहेंगे सभी युवा जदयू में शामिल हों : जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा- हम तो चाहेंगे कि सभी युवा, महिला तथा श्रमिक जदयू में शामिल होकर बिहार को विकसित व मजबूत बनाएं। आरसीपी से पूछा गया था कि जदयू क्या विस्तार के मोड में है, जो लोजपा सांसद चंदन सिंह मुख्यमंत्री से तथा भाकपा नेता कन्हैया कुमार मंत्री डॉ.अशोक चौधरी से मिले हैं? उन्होंने कहा कि मसला विस्तार का नहीं है; हमारी पार्टी की सोच-विचारधारा और काम का है। लोगों को लगता है कि हमारे नेता नीतीश कुमार ने बहुत अच्छा काम किया है। न्याय के साथ विकास तथा समावेशी विकास उनके शासन का सूत्रवाक्य है। सिवाय जदयू के, समाजवादी सोच की दूसरी पार्टियां वंशवादी हैं, परिवारवादी हैं। सब आएं और हमारे नेता के साथ बिहार के विकास को उछाल देने में लगें।

Source: Daily Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *