कैमूर कर्मनाशा ने मचाया गदर, पिकनिक मना रहे 400 लोगों पर आई आफत; जुगाड़ टेकनिक से बची जान

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के कैमूर में रविवार को कर्मनाशा नदी का जलस्तर अचानक बढ़ जाने से पिकनिक मनाने नदी के दूसरी ओर गए करीब 400 लोग फंस गए। रस्सी के सहारे बड़ी मुश्किल से उन्हें निकाला गया।

जिले के करकतगढ़ जलप्रपात पर पिकनिक मनाने के लिए जिले के विभिन्न गांव से सैकड़ों की संख्या में लोग रविवार की देर शाम पहुंचे थे। इसमें से करीब 400 लोग कर्मनाशा नदी के उस पार चले गए। जिसमें पुरुषों के अलावे महिलाएं एवं बच्चे भी शामिल थे। अचानक कर्मनाशा नदी का जलस्तर बढ़ने लगा। जब तक लोग कुछ समझ पाते नदी का जलस्तर इतना काफी बढ़ गया कि दोनों तरफ खड़े लोग हक्के बक्के होकर रह गए। भगवान भास्कर अस्ताचलगामी हो चले थे ऐसे में नदी के उस पार खड़े लोगों के दिल की धड़कनें बढ़ने लगी।

अपने परिजनों को नदी के उस पार फंसे देख लोगों के होश उड़ गए। आनन-फानन में इसकी सूचना चैनपुर पुलिस को दी गई। बकरीद की ड्यूटी में मुस्तैद चैनपुर पुलिस के जवान अफसर एवं सीओ पुरेंद्र कुमार सिंह तत्काल करकट गढ़ की ओर दल बल के साथ कूच कर गए। प्रशासनिक अधिकारियों के साथ पहुंची पुलिस की टीम ने धैर्य पूर्वक साहस से काम लिया और नदी के उस पार खड़े लगभग चार सौ की संख्या में लोगों को करकट गढ़ के आईबी के सामने आने का रिक्वेस्ट किया।

सभी लोग करीब डेढ़ किलोमीटर की दूरी  पर बने आईबी के सामने कर्मनाशा नदी के उस पार खड़े हो गए। तब पुलिस ने जुगाड़ तकनीकी लगाया और यहां दोनों ओर पेड़ में रस्सी को बांधकर ट्यूब के सहारे लोगों को निकालने की कवायद शुरू की। इस दौरान करीब आधा दर्जन गोताखोरों को भी पुलिस ने मुस्तैद किया। माइक्रोफोन के सहारे लोगों को मोटिवेट भी किया जा रहा था कि घबराएं नहीं। काफी देर रात तक पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों की टीम रेस्क्यू करती रही जिस पर जिला प्रशासन की पैनी नजर थी। उन्हें बारी-बारी से निकाल लिया गया परंतु पानी का जलस्तर घटने का नाम नहीं ले रहा था।

बताया जा रहा है कि कर्मनाशा  नदी मैं कुल करीब 7 बड़े बड़े बांध बनाए गए हैं। परन्तु यूपी में कर्मनाशा नदी पर बना अवरवाटाड  बांध से  अचानक पानी छोड़ दिया गया जिसके चलते यह समस्या आ गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.