अभी-अभीः SC-ST Act. पर फिर फूटा सवर्णों का गुस्सा, नीतीश के मंत्रियों के आवास का किया घेरावा

खबरें बिहार की

पटना: एसी एसटी एक्ट को लेकर सवर्णों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुस्साए लोगों ने अब सवर्ण मंत्रियों के घरों का घेराव करना शुरू कर दिया है। ब्राह्मण महासभा की ओर से बिहार सरकार में शामिल सवर्ण मंत्रियों के आवास का घेराव किया गया। महासभा की ओर से सवर्णों को इंसाफ दिलाने या फिर चुनाव में नतीजा भुगतने के लिए तैयार रहने की चेतावनी दी गई है। वहीं दूसरी तरफ मंत्रियों ने सवर्णों को विपक्ष द्वारा गुमराह किये जाने का आरोप लगाया।

बिहार सरकार के उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह के आवास पर ब्राह्मण महासभा के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने मंत्री के आवास का घेराव किया।सवर्ण युवाओं का विरोध सिर्फ जयकुमार सिंह के आवास तक ही सीमित नहीं रहा। मंत्री विनोद नारायाण झा के आवास का भी घेराव किया गाय। इसके साथ ही सवर्ण समाज से आनेवाले मंत्रियों के आवास भी प्रदर्शनकारियों की जद में आ गए।

इस संबंध में मंत्री जय कुमार सिंह ने कहा कि समझ नहीं आ रही कि लोग इस एक्ट का विरोध क्यों कर रहे हैं। ये एक्ट बहुत पहले से ही लागू है। उन्होंने कहा कि हंगामा करने वालों को उन्होंने समझाने की काफी कोशिश की मगर समझा नहीं सके। इस एक्ट का विरोध करने के पीछे कोई तर्क नहीं है। वहीं हंगामा कर रहे सवर्णों का कहना है कि एससी एसटी एक्ट के दुरुपयोग को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इस कानून में बदलाव करते हुए तुरंत गिरफ्तारी पर रोक लगा दिया था। मगर केंद्र सरकार ने अध्यादेश लाकर इसे कानून को फिर से लागू कर दिया।

सवर्णों को लग रहा है कि उनके साथ बुरा हुआ है। कोई उनकी आवाज नहीं उठा रहा है। अंत में सवर्णों ने खुद सड़कों पर उतरना ठीक समझा। आपको बता दे कि एससी एसटी एक्ट को लेकर जिस तरह से सवर्णों का आक्रोश लगातार बढ़ता जा रहा है, सवर्ण समाज के नेताओं की चिंता भी बढ़ती जा रही है। क्योंकि मामला वोट बैंक का है और चुनाव बिल्कुल नजदीक है। ऐसे में एक्ट को लेकर सवर्ण समाज को समझाना नेताओं के लिए बड़ी चुनौती बन गई है।

Source: Live Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published.