बिहार विधानसभा के उपाध्यक्ष बने JDU के महेश्वर हजारी, RJD प्रत्याशी की वोटिंग के लिए नहीं पहुंचा विपक्ष

राजनीति

पटना: बिहार विधानसभा को अपना नया उपाध्यक्ष (Bihar Assembly Deputy Speaker) मिल गया है. छह वर्ष बाद हुए चुनाव में जदयू (JDU) प्रत्याशी महेश्वर हजारी (Maheshwar Hazari) को 124 मत मिले वहीं राजद (RJD) प्रत्याशी भूदेव चौधरी (Bhudev Chaudhary) के समर्थन में वोटिंग के लिए विपक्ष सदन में गैर हाजिर रहा. मंगलवार शाम घटी घटना के बाद उपाध्‍यक्ष पद के लिए चुनाव प्रक्रिया के दौरान राजद सहित सभी विपक्षी दलों के विधायक सदन के बाहर ही बैठे रहे.

बिहार विधानसभा में बजट सत्र के आखिरी दिन राजद और अन्‍य विपक्षी पार्टियों के निर्वाचित प्रतिनिधि सदन की कार्यवाही में शामिल नहीं हुए.विपक्ष की गैरमौजूदगी में विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने दोनों उम्मीदवारों की तरफ से आए प्रस्तावों के बारे में सदन को विस्तार से बताया. इसके बाद मंत्री विजेंद्र यादव की तरफ से आए प्रस्ताव पर संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी ने विधानसभा अध्यक्ष से आग्रह किया कि विपक्ष सदन में गैर हाजिर है. ऐसे में ध्वनि मत से अगर उपाध्यक्ष का निर्वाचन होता है तो कल को सवाल खड़े हो सकते हैं.

संसदीय कार्य मंत्री ने आग्रह किया कि सदन में मत विभाजन कराया जाए इसके बाद वोटिंग की प्रक्रिया शुरू की गई. विपक्ष की गैरमौजूदगी में वोटिंग की प्रक्रिया के लिए घंटी बजाई गई और फिर मतदान की प्रक्रिया अपनाई गई सत्ता पक्ष के सदस्य सदन में खड़े हुए और उनकी संख्या गिनी गई जबकि विपक्ष में कोई भी सदस्य खड़ा नहीं था.

महेश्वर हजारी के पक्ष में कुल 124 मत आए. उपाध्यक्ष पद पर महेश्वर हजारी के निर्वाचन के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन को संबोधित किया. महेश्वर हजारी के निर्वाचन की घोषणा होने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुशी जताई है. उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने उपाध्यक्ष पद पर सामने से उम्मीदवार खड़ा किया वह आज सदन से गायब हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *