जहानाबाद के होटल में होने वाली भाभी से दुष्कर्म के बाद हत्या, शव को गाड़ कर 10 किलो नमक से गलाया

खबरें बिहार की जानकारी

जहानाबाद जिले के एक होटल में अपनी होने वाली भाभी से दुष्कर्म करने के बाद युवक ने 65 किलोमीटर दूर पटना जिले के जानीपुर थानांतर्गत गांजाचक गांव में सुनसान जगह पर दफना दिया। इतना ही नहीं, आरोपित ने साक्ष्य छुपाने के इरादे से शव पर 10 किलोग्राम नमक भी छिड़क दिया ताकि मांस-पेशियां और हड्डियां जल्दी गल जाएं। वारदात के 20 दिन बाद अरवल जिले की पुलिस के गिरफ्त में आए आरोपित विजेंद्र कुमार ने राज उगला तो पुलिस भी उसकी कारस्तानी सुनकर दंग रह गई। उसकी निशानदेही पर शव को गड्ढा खोद कर निकाला गया। लाश बुरी तरह सड़ चुकी थी। पुलिस के पहुंचते ही इलाकाई लोगों की भीड़ जमा हो गई। शव की दुर्गंध से लोग एक मिनट तक वहां खड़े नहीं रह पा रहे थे। साक्ष्यों को समेटने के बाद अरवल पुलिस शव लेकर लौट गई।

अरवल जिले की रहने वाली थी युवती

मृत युवती अरवल जिले की रहने वाली थी। काफी खोजबीन के बाद 25 नवंबर को उसके स्वजनों ने वहां के सदर थाने में गुमशुदगी की शिकायत की थी, जिसके 24 घंटे बाद पुलिस ने अपहरण की प्राथमिकी की। युवती की शादी औरंगाबाद जिले के हसपुरा थाना क्षेत्र के दिलावरपुर गांव निवासी सुरेंद्र यादव के बेटे रंजीत कुमार से तय हुई थी। फरवरी 2023 में शादी होने वाली थी। रंजीत की आर्मी में नौकरी लगी थी। उसने क्लर्क के पद पर योगदान भी कर लिया था। हालांकि, शादी की तारीख नजदीक आते ही वह युवती को नजरअंदाज करने लगा। युवती उस पर बार-बार शादी के लिए दबाव बना रही थी। इसको लेकर वह अक्सर रंजीत के छोटे भाई विजेंद्र से फोन पर बातें करती थी।

स्वजनों के दबाव पर हरकत में आई पुलिस

कहा जा रहा था कि वह अरवल बाजार जाने की बात बोल कर घर से निकली थी। शुरुआत में पुलिस मान रही थी कि युवती अपनी मर्जी से चली गई है, लेकिन स्वजनों को यह बात हलक से नहीं उतर रही थी। इसके बाद उन्होंने अरवल एसपी से गुहार लगाई तो जांच में तेजी आई। युवती की काल रिकार्ड निकाली गई तो मालूम हुआ कि उसने आखिरी बार विजेंद्र से बात की थी। पुलिस ने विजेंद्र की काल रिकार्ड भी खंगाली। दोनों के मोबाइल की लोकेशन जहानाबाद में एक ही जगह पर मिली थी। इसके बाद से युवती का मोबाइल बंद आने लगा। तब अरवल पुलिस ने विजेंद्र को हिरासत में लिया और सख्ती से पूछताछ की तो उसने पूरी कहानी बयां कर दी।

बहला कर ले गया था जहानाबाद

विजेंद्र ने 16 नवंबर युवती को बहला कर जहानाबाद के होटल में बुलाया था। उससे कहा था कि रंजीत वहां मिलना चाहता है, जिसके बाद युवती बिना कुछ सोचे-समझे पहुंच गई। होटल के कमरे में लेकर जाने के बाद विजेंद्र ने युवती के साथ दुष्कर्म किया, फिर गला घोंट कर उसे मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद चारपहिया वाहन से युवती का शव लेकर पटना के जानीपुर चला गया। वहां गांजाचक में झाड़ियों के बीच गड्ढा कर शव को दफना दिया। वारदात में रंजीत के साथ अन्य आरोपित भी थे, जिनकी पुलिस ने पहचान कर ली है। अरवल एसपी ने बताया कि आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है।

कपड़ों से हुई शव की पहचान

जानीपुर थाना के सहायक दारोगा अरुण कुमार पांडेय ने बताया कि नमकी छिड़के जाने की वजह से युवती का शव बुरी तरह गल चुका था। उसका चेहरा पहचान में नहीं आ रहा था। पुलिस ने जब गड्ढा खोद कर शव को बाहर निकाला तो उसमें कीड़े लगे थे। कपड़ों से युवती के स्वजनों ने शव की शिनाख्त की। मौके से एकत्र किए गए साक्ष्य को अरवल जिले की पुलिस ने सुरक्षित रख लिया। साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.