पटना में खुलेगा ब्रिटानिया और आईटीसी का फूड प्रोसेसिंग पार्क, युवाओं को मिलेगा रोज़गार

खबरें बिहार की

राज्य में निवेश के लिए धीरे-धीरे बड़ी कंपनियां आगे रही हैं। फूड प्रोसेसिंग क्षेत्र में अपार संभावना को देखते हुए ब्रिटानिया और आईटीसी जैसी कंपनियों ने इस क्षेत्र में निवेश के लिए दिलचस्पी दिखाई है।

उद्योग विभाग से इस संबंध में दोनों कंपनियों के प्रतिनिधि बातचीत कर रहे हैं। उन्होंने पटना से 50 किमी की दूरी पर फूड प्रोसेसिंग पार्क बनाने का प्रस्ताव उद्योग विभाग को दिया है।

हालांकि, दोनों कंपनियां बिहार में पहले से भी काम कर रही हैं। आईटीसी की मुंगेर और ब्रिटानिया की हाजीपुर में फैक्ट्री है।

बिहार में खगड़िया, बक्सर, बांका और रोहतास में चार फूड पार्क बनाने की मंजूरी पहले ही दी जा चुकी है।

खगड़िया के मानसी स्थित फूड पार्क में मक्के से बने खाद्य सामग्री का उत्पादन शुरू हो गया है। प्रिस्टाईन कंपनी मक्के की खेती के बाद बेबी कॉर्न एवं स्वीट कॉर्न का उत्पादन कर जिले के किसानों को बेहतर आमदनी के लिए प्रेरित कर रही है।

यह क्षेत्र देश में मक्के की खेती के लिए जाना जाता है। यहां से मक्के का निर्यात भी होता है।

प्रिस्टाईन कंपनी साढ़े तीन एकड़ में बेबी कॉर्न तथा पांच एकड़ में स्वीट कॉर्न का उत्पादन कर रही है।

एक मेगा फूड पार्क बांका के बौंसी में लगेगा। इस परियोजना में तीन पार्टनर हैं- केंवेटर एग्रो, शक्ति सुधा, बिग बाजार पैंटालून।

इसमें करीब एक हजार करोड़ के निवेश की संभावना है। बिहार सरकार बौंसी स्थित बियाडा की 101 एकड़ जमीन मेगा फूड पार्क के लिए देने को तैयार है। बक्सर में आम्रपाली ग्रुप की मंस मेगा फूड पार्क और रोहतास में जेवीएल मेगा फूड पार्क पर काम चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.