ईंट-भट्ठा कारोबारी के घर से तीन करोड़ से अधिक नकद, लाखों के आभूषण बरामद; पाई-पाई का हिसाब लेगी आयकर

खबरें बिहार की जानकारी

ईंट भट्ठा कारोबारी अफरोज आलम के शाहजंगी स्थित घर पर गुरुवार को आयकर विभाग की टीम ने सर्वे किया। दिनभर चली कार्रवाई में टीम को बड़ी सफलता हाथ लगी है। कार्रवाई में पटना व भागलपुर की इंवेंस्टिगेशन टीम शामिल है। टीम को करोडों रुपये नकद और भारी मात्रा में आभूषण मिले हैं। संपत्ति से जुड़े कई कागजात भी बरामद हुए हैं। सूत्रों के अनुसार बरामद नोट को गिनने के लिए कैश मशीन और ज्वेलरी तोलने के लिए कांटा की व्यवस्था करनी पड़ी। देर रात तक नोट की गिनती जारी थी। देर शाम तक तीन करोड़ रुपये तक की गिनती हो सकी थी। लाखों रुपये मूल्य के आभूषण बताए जा रहे हैं। इसके अलावा काफी संख्या में संपत्ति के कागजात भी मिले हैं।

आयकर अधिकारी की टीम सुबह 7:30 बजे जैसे ही ईंट भट्ठा कारोबारी के आवास पर पहुंची तो हड़कंप मच गया। सूत्रों की मानें तो अफरोज का मुख्य कारोबार चिमनी ईंट भट्ठा, ठेकेदारी एवं जमीन खरीद बिक्री (प्रापर्टी डिलिंग) है। पटना से छह गाड़ियों में अधिकारियों की टीम भागलपुर पहुंची टीम कार्रवाई में जुटी हुई है।

कटर मशीन मंगाकर लाकर काटने पर निकला नकदी व ज्वेलरी

आयकर टीम की सर्वे के दौरान लाकर काटने के लिए कटर मशीन मंगाया गया। इस मशीन से लाकर काटा गया तो उससे बड़ी मात्रा में आभूषण व नकदी बरामद हुआ है।

आयकर अधिकारी की टीम सुबह 7:30 बजे जैसे ही ईंट भट्ठा कारोबारी के आवास पर पहुंची तो हड़कंप मच गया। सूत्रों की मानें तो अफरोज का मुख्य कारोबार चिमनी ईंट भट्ठा, ठेकेदारी एवं जमीन खरीद बिक्री (प्रापर्टी डिलिंग) है। पटना से छह गाड़ियों में अधिकारियों की टीम भागलपुर पहुंची टीम कार्रवाई में जुटी हुई है।

पहुंचा वेल्यूवर, दिल्ली से आ रही फारेंसिक टीम

आयकर विभाग के अधिकारियों के अनुसार, कारोबारी के घर से मिले संपत्ति के कागजात के आधार पर वेल्यूवेशन के लिए वेल्यूवर की टीम पहुंच गई है। वहीं, दिल्ली से देर रात तक फारेंसिक टीम भी पहुंच गई है।

पूरे घर को खंगाला

नकदी समेत आभूषण व जमीन से जुड़े कागजात की बरामदगी के लिए पूरे घर को खंगाला गया। जहां भी इसके छिपे होने की आशंका हुई वहां दीवार को तोड़ा गया है। इसके लिए हथौड़ा व ड्रिल मशीन मंगाई गई थी।

बैंक खातों का फिगर भी चेक करने लगी है टीम

आयकर अधिकारियों की टीम घर व ईंट भट्ठा पर सर्वे जारी है। टीम के कुछ सदस्य बैंक खातों का फिगर भी जांच करने में लगी है। फिगर क्या आया और क्या कार्रवाई होगी इस संबंध में कोई भी अधिकारी कुछ बताने से फिलहाल इन्कार कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.