भारत को इजरायल का तोहफा, भारत के हर बॉर्डर पर दौड़ेगी 11 हजार वोल्ट की बिजली

कही-सुनी

पाकिस्तान से लगी सीमा पर भारत इसराइल में विकसित किया गया स्मार्ट तारबंदी तंत्र लगा रहा है। इसमें त्वरित कार्रवाई बल प्रणाली भी है। जब सीसीटीवी लगे कंट्रोल रूम में घुसपैठ की कोशिश करते कोई दिखाई देता है तो यह टीम हमला करती है।

बीएसएफ महानिदेशक केके शर्मा ने एक इंटरव्यू में कहा कि बीएसएफ महत्वाकांक्षी परियोजना “व्यापक समेकित सीमा प्रबंधन प्रणाली” लागू कर रहा है। यह मोदी सरकार की भारत-पाकिस्तान और भारत-बांग्लादेश सीमा को अगले कुछ वर्षों में पूरी तरह सील करने की योजना का हिस्सा है। इन दोनों देशों से लगी हमारी सीमा 6300 किमी की है। बीएसएफ के पास इस पर निगरानी की जिम्मेदारी है।

उन्होंने कहा कि सीमा पर निगरानी के इस नए तंत्र से इस क्षेत्र में पहली बार बड़ा परिवर्तन आएगा। उन्होंने कहा कि हमारी अभियान तैयारी में आदर्श परिवर्तन आएगा। अभी हम सीमा पर किसी एक बिंदु से दूसरे बिंदु तक गश्त करते हैं। अब हम त्वरित कार्रवाई बल आधारित प्रणाली पर जा रहे हैं। साथ ही कई नई तकनीकों का उपयोग कर रहे हैं जिनका कभी परीक्षण नहीं किया गया।




उन्होंने बताया कि पहले यह पाकिस्तान सीमा पर लगाया जाएगा उसके बाद बांग्लादेश सीमा पर इसे स्थापित किया जाएगा। एक नियंत्रण कक्ष होगा जिसमें दो तीन व्यक्ति सीसीटीवी लगे तंत्र से 24 घंटे निगरानी करेंगे। हमारे पास ऐसे सॉफ्टवेयर हैं जिनसे कोई भी घुसपैठ होने पर अलार्म बज जाएगा।




ऑटोमैटिक अलार्म यह भी बताएगा कि सीमा पर कहां घुसपैठ हो रही है या वहां असामान्य गतिविधि हो रही है। अलार्म बजते ही नाइट विजन कैमरा वहां जूम किया जाएगा। इससे पता लग जाएगा कि क्या हो रहा है। पता चलते ही खतरे को दूर किया जाएगा।







Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *