इंफोर्समेंट एसआइ व रेंज आफ‍िसर की पीईटी की तिथि घोषित, 30 अप्रैल से डाउनलोड कर सकेंगे एडमिट कार्ड

जानकारी

बीपीएसएसएसी (Bihar Police Sub Ordinate service Commission) ने बिहार परिवहन विभाग में इंफोर्समेंट सब इंस्‍पेक्‍टर और वन विभाग में रेंज आफिसर पदों के लिए होने वाली पीईटी परीक्षा (PET) के एडमिट कार्ड जारी करने की तिथि घोषित कर दी है। साथ ही परीक्षा की तिथि भी जारी कर दी गई है। पीईटी परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड 30 अप्रैल 2022 को 11 बजे दिन से विभागीय वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है। बता दें कि कुल 255 पदों पर बहाली होनी है। इनमें ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट में इंफोर्समेंट एसआइ के लिए 212 जबकि रेंज आफिसर के लिए 43 पद हैं।

30 अप्रैल से डाउनलोड किए जा सकेंगे एडमिट कार्ड

बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग की वेबसाइट (bpssc.bih.nic.in) के अनुसार परिवहन विभाग में प्रवर्तन अवर निरीक्षक (Enforcement Sub Inspector) और वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग मेंं वनों के क्षेेत्र पदाधिकारी के पदों के लिए शारी‍रिक दक्षता परीक्षा (Physical Efficiency Test) के लिए एडमिट कार्ड 30 अप्रैल से डाउनलोड किए जा सकेंगे। वेबसाइट पर दिए गए लिंक पर जाने के बाद नया पेज खुलेगा। इसपर रजिस्‍ट्रेशन नंबर या मुख्‍य परीक्षा का रोल नंबर अथवा रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर से ला‍गिन करना होगा। इंफोर्समेंट सब इंस्‍पेक्‍टर की शारीरिक दक्षता परीक्षा 13 से 16 मई तक हाेगी। वहीं रेंज आफिसर के लिए पीईटी 12 मई को होगी। गौरतलब है कि इंफोर्समेंट एसआइ की वैकेंसी वर्ष 2019 में (Advt No 02/2019) आई थी।  वहीं रेंज आफिसर पद के लिए विज्ञापन (Advt. No. 02/2020) वर्ष 2020 में आया था।

एनओयू में इसी सत्र से शुरू होगी बीएड की पढ़ाई 

नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी (एनओयू) में बीएड कोर्स का संचालन को लेकर मंगलवार को आनलाइन निरीक्षण हुआ। एनसीटीइ के अधिकारियों ने अनुमति देने के लिए वर्चुअल बैठक में शामिल हुए। बैठक में पूछे गये सवालों का जवाब एनओयू के प्रति कुलपति प्रो संजय कुमार ने दिया। प्रो संजय कुमार ने एनसीटीइ को पूरी जानकारी दी। इसके बाद एनसीटीइ के अधिकारियों ने जल्द से मान्यता देने का आश्वासन दिया। एनओयू में पिछले पांच सालों से बीएड बंद है। निरीक्षण के बाद से बीएड को पुन: शुरू होने की आस जगी है। एनओयू ने बीएड के 500 सीटों के लिए अनुमति मांगी है। यह राज्य का एक मात्र ओपन यूनिवर्सिटी है, जो वर्किंग शिक्षकों को बीएड कराती है। इस राज्य के लिए दूर शिक्षा से बीएड जरूरी है। अनुमान है कि नये सत्र में बीएड में एडमिशन की अनुमति मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.