पटना: नॉटिंघम में टीम इंडिया और इंग्लैंड की टीमों की बीच शनिवार से तीसरा टेस्ट मैच शुरू हो गया. सीरीज में 0-2 से पिछड़ रही टीम इंडिया के लिए इस मैच को जीतना बहुत जरूरी है. उसकी शुरुआत अच्छी रही, लेकिन लंच तक उसने एक के बाद एक तीन विकेट खो दिए. सीरीज के इस तीसरे मैच में टीम इंडिया के खिलाड़ी काली पट्टी बांधकर मैदान पर उतरे. पहले बल्लेबाजी करने आए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और केएल राहुल की बांह पर काली पट्टी बंधी हुई थी. इसके बाद बल्लेबाजी करने आए चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली भी काली पट्टी बांधकर उतरे.

दरअसल टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने इस मैच में काली पट्टी बांधकर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान अजित वाडेकर को अपनी श्रद्धांजलि दी. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान अजित वाडेकर का निधन 15 अगस्त देर को हुआ. वहीं भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का 16 अगस्त की शाम 5 बजकर 5 मिनट पर दिल्ली के एम्स में निधन हो गया. इन्हीं हस्तियों के सम्मान में टीम के खिलाड़ी मैदान पर काली पट्टी बांधकर उतरे.

अजित वाडेकर टीम इंडिया के पहले कप्तान थे, जिनके नेतृत्व में टीम ने इंग्लैंड को उसी की धरती पर पहली बार हराया था. इतना ही नहीं, अजित वाडेकर के नेतृत्व में ही टीम इंडिया ने एक समय अपराजित मानी जाने वाली वेस्ट इंडीज को उसी के घर में धो दिया था.

अजित वाडेकर बाद में टीम इंडिया के मैनेजर बने. उनकी और पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन की जोड़ी ने टीम को मिलकर कई कामयाबियां दिलाईं.

Source: Zee News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here