भारत की बेटियों ने बढ़ाया मान, देश के लिए स्वर्ण पदक जीतकर रच दिया इतिहास

कही-सुनी

शूटिंग वर्ल्ड कप फाइनल्स में गुरुवार का दिन भारत के लिए ऐतिहासिक रहा। भारतीय निशानेबाजों ने एक ही दिन में 3 स्वर्ण पदक जीतकर विश्व रिकॉर्ड बना दिया। स्टार शूटर मनु भाकर और इलावेनिल वलारिवान ने आईएसएसएफ वर्ल्ड कप फाइनल्स में अपनी-अपनी स्पर्धाओं में गोल्ड जीता और भारतीय शूटरों के लिए इस दिन को यादगार बना दिया। मनु ने जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ महिला 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट का गोल्ड मेडल अपने नाम किया, जबकि इलावेनिल ने महिला 10 मीटर एयर राइफल में सोने का तमगा हासिल किया।

17 साल की मनु ने 244.7 का स्कोर किया और जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया। यह आईएसएसएफ का इस सीजन का अंतिम टूर्नामेंट है।मनु के इवेंट के फाइनल में ही यशस्विनी सिंह देसवाल ने छठे नंबर पर रहीं। सर्बिया की जोराना अरुनोविच ने 241.9 के स्कोर के साथ सिल्वर और चीन की क्वियान वांग ने 221.8 के स्कोर के साथ ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया।

इन दोनों के बाद पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में भारतीय निशानेबाज दिव्यांश सिंह पंवार ने भारत को दिन का तीसरा स्वर्ण पदक दिलाया है।

इससे पहले बुधवार को मनु शूटिंग वर्ल्ड कप फाइनल्स में महिलाओं के 25 मीटर एयर पिस्टल वर्ग में फाइनल के लिए क्वालिफाई नहीं कर सकी थीं। कॉमनवेल्थ गेम्स की गोल्ड मनु ने प्रिसिशन में 292 और रैपिड में 291 स्कोर किया था. उनका क्वालिफायर में कुल स्कोर 583 रहा।

Sources:-Live News

Leave a Reply

Your email address will not be published.