भारत की तीसरी महिला एस्ट्रोनॉट तैयार है अंतरिक्ष में तिरंगा लहराने को

कही-सुनी

भारत की एक और महिला अंतरिक्ष की यात्रा कर इतिहास रचने जा रही है। कनाडा की अल्बर्टा यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में जनरल फिजीशियन शावना पांड्या स्पेस के लिए उड़ान भरेंगी।

सिटीजन साइंस एस्ट्रोनॉट प्रोग्राम के तहत स्पेस में जाने के लिए 3200 लोगों में से दो लोगों का चयन हुआ है। वह 2018 में अतंरिक्ष में जाने वाले मिशन का हिस्सा होंगी।

कनाडा में रहने वाली भारतीय मूल की एक न्यूरोसर्जन को नासा ने नागरिक विमान अंतरिक्षयात्री (सीएसए) कार्यक्रम के तहत अपने 2018 के अंतरिक्ष मिशन के लिए शार्टलिस्ट किया है। सबकुछ ठीक रहने पर डॉक्टर शावना पंड्या कल्पना चावला और सुनीत विलियम्स की सूची में शामिल हो सकती हैं।

कनाडा में जन्मीं डॉक्टर पंड्या अलबर्ट यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में जनरल फिजिशियन हैं। 32 वर्षीय शावना मूल रूप से मुंबई की रहने वाली हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.