कभी थे बस कंडक्टर, आज बने इंग्लैंड के पहले सिख सांसद

अंतर्राष्‍ट्रीय खबरें

कितना अच्छा लगता है जब कोई भारत देश का आदमी विदेशों में जाकर अपने देश का नाम रौशन करता है और वहां का कोई बड़ा अधिकारी बन जाता है।

ऐसा ही कुछ हुआ है इंग्लैंड में जहां ग्रेवशैम शहर में यूरोप के सबसे युवा सिख मेयर बनने वाले तनमनजीत सिंह ढेसी उर्फ टैन ढेसी ब्रिटेन की संसद हाऊस ऑफ कॉमन्स के पहले सिख सांसद बन गए हैं।

जालंधर के रायपुर गांव के तनमनजीत सिंह ने यूके में वहां के लोकल कैंडिडेट्स को हराकर को हराया। उन्होंने कंजरवेटिव पार्टी के उम्मीदवार मार्क विविस को 17,000 वोटों से हराकर ये जीत हासिल की। बता दें की ढेसी के साथ वीरेंद्र शर्मा को भी साऊथ हाल के ईलिंग्स से लगातर चौथी बार MP चुना गया है। ये दोनों पंजाब मूल के हैं।

तनमनजीत सिंह ढेसी ने अपनी पढ़ाई जालंधर से पूरी की और फिर वे UK चले गए और वहां ओक्सफोर्ड और कैंब्रिज इंटरनैशनल यूनिवर्सिटी से स्टडीज पूरी की वहीं दूसरी ओर वीरेन्द्र शर्मा ने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्ससे स्टडी की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.