15 अगस्‍त से पहले भारतीय सेना ने की पाकिस्‍तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, पाक के दो सैनिक तंगधार में ढेर

राष्ट्रीय खबरें

सेना ने नॉर्थ कश्‍मीर के कुपवाड़ा स्थित तंगधार सेक्‍टर में बड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्‍तान सेना के दो सैनिकों को ढेर कर दिया है। तंगधार में लगातार पाकिस्‍तान की ओर से गोलीबारी जारी है और लगातार युद्धविराम को तोड़ा जा रहा है। गोलीबारी की आड़ में पाकिस्‍तान की सेना उन आतंकियों की मदद कर रही थी जो भारत में घुसपैठ की कोशिशों में लगे हुए हैं। सोमवार को कुपवाड़ा में पाकिस्‍तान की सेना की ओर से फायरिंग में भारतीय सेना के जवान पुष्पेन्द्र सिंह शहीद हो गए थे। पुष्‍पेन्‍द्र 20 जाट बटालियन के जवान थे। सोमवार को पाकिस्तान की तरफ से दोपहर करीब 3:30 बजे स्नाइपर शॉट किए गए। इन्‍हीं हमलों में सेना के जवान शहीद हो गए थे।

रात में सेना ने की कार्रवाई

सेना के श्रीनगर स्थित प्रवक्‍ता की ओर से इस पर जानकारी दी गई है, ‘सेना ने कैलिबरेटेड ऑपरेशंस के तहत तंगधार सेक्‍टर में दो पाकिस्‍तान सैनिकों को मार गिराया है। पाकिस्‍तान की सेना की ओर से यहां पर लगातार युद्धविराम को तोड़ा जा रहा था और घुसपैठ की कोशिशों में मदद की जा रही थी, इसकी प्रतिक्रिया स्‍वरूप सेना ने कार्रवाई की है।’ सोमवार को पाकिस्‍तान की सेना ने तंगधार में युद्धविराम तोड़ा था। यह युद्धविराम श्रीनगर में हुए एनकाउंटर के अगले दिन पाकिस्‍तान की तरफ से तोड़ा गया था जिसमें एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया था। साथ ही चार लोग घायल हुए थे।

श्रीनगर में एनकाउंटर के बाद फायरिंग जारी

यह एनकाउंटर श्रीनगर के बटमालू इलाके में हुआ था। अभी पिछले हफ्ते ही पाकिस्‍तान में भारत के उच्‍चायुक्‍त अजय बिसारिया ने पाकिस्‍तान के भावी पीएम इमरान खान से मुलाकात की थी। बिसारिया ने इमरान खान के साथ मुलाकात में उन्‍हें आतंकवाद और सीमा पार से जारी घुसपैठ से जुड़ी भारत सरकार की चिंताओं से अवगत करा दिया था

शहादत को सलाम

सोमवार को तंगधार में शहीद हुए जवान पुष्‍पेंद्र सिंह की शहादत पर चिनार कोर की ओर से उन्‍हें श्रद्धांजलि दी गई है। चिनार कोर की ओर से ट्विटर पर लिखा गया है, ‘चिनार कोर सिपाही पुष्‍पेंद्र सिंह के सर्वोच्‍च बलिदान को सलाम करता है जिन्‍होंने तंगधार में घुसपैठ की कोशिशों को रोकते हुए अपने प्राण गंवा दिए।’ सात अगस्‍त को भी गुरेज सेक्‍टर में घुसपैठ की कोशिशों में लगे आतंकियों को रोकने की कोशिशों में मेजर केपी राणे, हवलदार जै‍मी सिंह और विक्रमजीत सिंह और राइफलमैन मनदीप रावत शहीद हो गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.