भारत और चीन के बीच लद्दाख के गलवान घाटी में LAC पर हुए हिंसक झड़प के बाद केंद्र सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है. सीमा पर लगातार बढ़ते तनाव को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने कहा, ‘बस अब बहुत हुआ. हमें सच जानना है कि आखिर क्या हुआ है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मामले पर चुप क्यों है?
राहुल गांधी ने ट्वीट किया- ‘पीएम चुप क्यों हैं? वह क्यों छिप रहे हैं? बस बहुत हुआ. हम जानना चाहते हैं कि क्या हुआ है. चीन की हिम्मत कैसे हुई हमारे सैनिकों को मारने की? उनकी हिम्मत कैसे हुई हमारी जमीन लेने की?’


चीन से भारत को 45 साल बाद एक बार फिर धोखा मिला है. सोमवार देर रात लद्दाख के गलवान घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर बातचीत करने गई भारत की सेना पर चीनी सैनिकों की हिंसक झड़प हो गई. पत्थरों, लाठियों और धारदार चीजों से हमला किया गया. इस हमले में भारत के कमांडिंग ऑफिसर समेत 20 सैनिक शहीद हो गए. जबकि, चीन के 43 सैनिक हताहत बताए जा रहे हैं. हालांकि, चीन ने यह कबूला नहीं है.
घटना के सामने आने के बाद से ही दिल्ली में बैठकों का दौर तेज हो गया. पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत समेत तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ बैठक की. इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में सुरक्षा मामलों की कैबिनेट की बैठक हुई. जिसमें प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री, गृह मंत्री और वित्त मंत्री शामिल हुए.


भारतीय सेना ने बयान जारी कर कहा है कि फिलहाल जहां झड़प हुई वहां से दोनों देशों के सैनिक पीछे हट गए हैं. हालांकि चीन ने आरोप लगाया है कि हिंसा की शुरुआत भारतीय सैनिकों ने की थी. अब चीन की सरकारी मीडिया में भारत को ताकतवर चीनी सेना की धमकी देते हुए कहा है कि वे अमेरिका समेत अन्य देशों के बहकावे में आकर गलत कदम उठाने के बारे में न सोचे.

dezine quest

Sources:-News18

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here