कप्तान विराट कोहली के साथ साथ भुवनेश्वर कुमार और बुमराह की धातक गेंदबाजी के बदौलत भारत ने श्रीलंका को पांचवें और आखिरी वनडे में 6 विकेट से हरा दिया।

इसके साथ ही भारत ने श्रीलंका को टेस्ट में 3-0 से व्हाइटवॉश करने के साथ ही वनडे सीरीज में भी 5-0 से व्हाइटवॉश किया। श्रीलंका द्वारा दिए गए 239 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने 46.3 ओवरों में जीत हासिल कर ली।

इससे पहले लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत को अजिंक्य रहाणे(5) और रोहित शर्मा(16) के रूप में शुरुआती झटके लगे। इसके बाद कप्तान विराट कोहली और मनीष पांडे (36) ने पारी को संभालते हुए भारत के लिए जीत को और आसान कर दिया। विराट(110) ने इस मैच में भी शतक लगाकर अपने शतकों की संख्या 30 कर ली। केदार जाधव ने भी 63 रनों की शानदार पारी खेली।

इसके साथ ही बुमराह ने भी एक खास रिकॉर्ड अपने नाम किया। इस मैच में दो विकेट के साथ बुमराह ने सीरीज में कुल 15 विकेट चटकाए जो दो देशों के बीच खेले गए वनडे सीरीज में किसी भी तेज गेंदबाज द्वारा लिया गया सबसे अधिक विकेट है। भारत के यॉर्कर किंग बुमराह को इस रिकॉर्ड को बनाने के लिए दो विकेट की जरूरत थी। तो वहीं टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने भी इस मैच में एक खास रिकॉर्ड अपने नाम किया। धोनी इंटरनेशनल क्रिकेट में 100 स्टंप करने वाले पहले खिलाड़ी बने। इससे पहले ये रिकॉर्ड श्रीलंका के विकेटकीपर कुमार संगकारा के नाम था।

इससे पहले भारत में मेजबान श्रीलंका ने भारत को जीत के लिए 239 रनों का लक्ष्य दिया था। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की टीम 50 ओवर पूरे होने से दो गेंद पहली ही लाहिरू थिरिमान(67) एंजेलो मैथ्यूज(55) और उपल थारंगा(48) के पारी बदौलत 238 रनों पर ऑलआउट हो गई। भारत की तरफ से सर्वाधिक 5 विकेट तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने झटके।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की टीम को पहला झटका भुवनेश्वर ने 14 रन के कुल स्कोर पर दिया। सलामी बल्लेबाज निरोशन डकवेला महज 2 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद भुवी ने ही दिलशान को 4 रन के स्कोर पर आउट कर भारत को दूसरी सफलता दिलाई। इसके बाद बुमराह ने कप्तान उपल थारंगा को 48 रन के स्कोप पर आउट किया।

63 रनों पर 3 विकेट खोने के बाद टीम का मोर्चा संभाला एंजेलो मैथ्यूज और लाहिरो थिरिमाने ने। दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 122 रनों की शानदार शतकीय साझेदारी हुई। इस साझेदारी पर विराम लगाया भुवनेश्वर कुमार ने। उन्होंने थिरिमाने को 67 रन पर चलता किया। इसके बाद मैथ्यूज भी 55 के स्कोर पर आउट हो गए और जैसे तैसे श्रीलंका 49.4 ओवरों 238 रनों पर सिमट गई। भारत की तरफ से भुवी ने 5, बुमराह ने 2, कुलदीप और युजवेंद्र ने 1-1 विकेट झटके।

पोटिंग को कोहली ने पीछे छोड़ा…

भारत और श्रीलंका के बीच खेले गई पांच वनडे मैचों की सीरीज का आखिरी मुकाबला भारत ने जीत लिया है। इस सीरीज में भारत ने श्रीलंका को 5-0 से हराया। टीम इंडिया की इस जीत ने कई रिकॉर्ड बनाए। कप्तान विराट कोहली के तूफानी शतक ने श्रीलंकाई गेंदबाजों को पस्त कर दिया।

यह दूसरी बार है जब कोहली की कप्तानी में भारत ने विदेशी जमीं पर 5-0 से जीत हासिल की है। इस मैच में कोहली ने वनडे करियर का 30वां शतक जड़ा है। इस शतक से वो वनडे में सबसे ज्यादा शतक मारने वालों की लिस्ट में दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। कोहली ने 186 पारियों में 8587 रन बनाए हैं,जिसमें 30 शतक और 44 अर्धशतक शामिल हैं।

वनडे में सबसे ज्यादा शतक जड़ने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है। उन्होंने 49 शतक लगाए हैं।
विराट कोहली ने विश्व क्रिकेट में इस कैलेंडर वर्ष में सबसे ज्यादा रन बनाए हैं। उन्होंने 18 मैचों में 90.91 की औसत से 1000 से ज्यादा रन बनाए हैं। इस दौरान 103.1 का स्ट्राइक रेट रहा है।

इस सीरीज में जसप्रीत बुमराह ने सबसे ज्यादा 15 विकेट चटकाए हैं। इससे वो द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। उन्होंने इंग्लैंड के क्रिस वोक्स को पीछे छोड़ा है। वोक्स ने एक द्विपक्षीय सीरीज में 14 विकेट हासिल किए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here