इन 31 जिलों की 400 बस्तियों में स्वास्थ्य मेला आज, तैनात रहेंगे डॉक्टर और फार्मासिस्ट; मुफ्त में दवा देगी नीतीश सरकार

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के 31 जिलों की करीब 400 बस्तियों में स्वास्थ्य मेला (शिविर) का आयोजन रविवार को होगा और इस मेले में घर के समीप डॉक्टर मरीजों का इलाज करेंगे। स्वास्थ्य विभाग ने संबंधित जिलों के सिविल सर्जनों को बस्तियों में स्वास्थ्य मेला लगाने का निर्देश दिया है। इस मेले में सभी मेडिकल कॉलेजों के चिकित्सक एवं मेडिकल के छात्र व छात्राएं भी शामिल होंगी।

विभाग के अनुसार दरभंगा, मुजफ्फरपुर, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, बेगूसराय, सुपौल, समस्तीपुर, मधुबनी, मधेपुरा, सीतामढ़ी, कटिहार, पटना, भागलपुर, बांका, जमुई, मुंगेर, लखीसराय, शेखपुरा, नवादा, नालंदा, अरवल, गया, जहानाबाद, रोहतास, कैमूर, बक्सर एवं भोजपुर में स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जाएगा। विभाग के अनुसार विभिन्न जिलों में स्वास्थ्य शिविर के आयोजन को लेकर जिलावार वालंटियर की तैनाती की गयी है। सभी सिविल सर्जन को अपने जिले के वालंटियर से संपर्क कर उनसे समन्वय स्थापित करने का निर्देश दिया गया है।

डॉक्टर व कर्मी के साथ फार्मासिस्ट भी तैनात रहेंगे

स्वास्थ्य मेले में सिविल सर्जन के माध्यम से डॉक्टरों व कर्मियों की तैनाती की जाएगी। इसके साथ ही फार्मासिस्ट भी तैनात किए जाएंगे। स्वास्थ्य मेले में राज्य सरकार द्वारा नि:शुल्क दी जाने वाली दवाओं का वितरण भी किया जाएगा। विभाग ने जिला औषधि भंडार में दवाओं की उपलब्धता व भंडारण को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य मेले में दवाओं को भेजने का निर्देश दिया है। जो भी दवाएं शिविर में ले जायी जाएंगी उसकी एंट्री की जाएगी। आवश्यकता आधारित दवाएं ले जाने वाले फार्मासिस्ट या पारा मेडिकल कर्मी एक रजिस्टर में मरीज के नाम के साथ दवा वितरण का विवरण अंकित करेंगे। इस वितरण पंजी पर डॉक्टर का नाम और उनका हस्ताक्षर कराया जाना अनिवार्य होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.