कोरोना टीका नहीं लिया तो एयरपोर्ट पर उतरते ही लगेगी वैक्सीन, होली पर बिहार आने वाले यात्रियों की होगी जांच

खबरें बिहार की

पटना: पटना एयरपोर्ट पर उतरने वाले यात्रियों की कोरोना जांच कराई जाएगी। यदि उन्होंने वैक्सीन नहीं ली है तो वैक्सीन भी लगाई जाएगी। एयरपोर्ट पर रैपिड एंटीजेन किट से 17 मार्च से कोविड जांच शुरू की जा रही है। पंजाब और महाराष्ट्र से आने वाले उन यात्रियों की जांच की जाएगी, जिनके पास कोविड निगेटिव सर्टिफिकेट नहीं होगा। इसके लिए परिसर में तीन टीमों की तैनाती की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग की टीम बुधवार सुबह से तैनात रहेगी। मंगलवार देर शाम से 24 घंटे जांच की व्यवस्था की तैयारी शुरू हो गई। गौरतलब है कि पटना एयरपोर्ट पर पुणे, मुम्बई, चंडीगढ़ और अमृतसर से हर दिन सैंकड़ों यात्रियों की आवाजाही होती है। होली के समय यात्रियों की आवाजाही बढ़ जाती है।

प्रमाण पत्र होना अनिवार्य
देश के विभिन्न राज्यों से आने वाले लोगों में कोरोना बीमारी है या नहीं इसकी जांच के लिए जिला प्रशासन ने पटना एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन व बस स्टैंड पर विशेष जांच की व्यवस्था की है। डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि पटना एयरपोर्ट पर आने वाले लोगों के पास कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं होने का निगेटिव रिपोर्ट होना चाहिए या उनके पास वैक्सीन लेने का प्रमाण पत्र होना चाहिए। यदि दोनों प्रमाण पत्र नहीं है तो ऐसी स्थिति में उस व्यक्ति की एयरपोर्ट पर ही कोरोना जांच कराई जाएगी। साथ ही ऐसे लोगों को वैक्सीन भी वहीं लगाई जाएगी। 

पंजाब, केरल और महाराष्ट्र से आने वालों पर विशेष जोर
डीएम ने बताया कि पंजाब, केरल और महाराष्ट्र में बीमारी का प्रकोप अधिक है। इसीलिए इन तीन राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूर एवं अन्य लोगों की विशेष जांच होगी। पहले तो इन राज्यों से आने वाले लोगों को एयरपोर्ट, बैरिया, बांकीपुर या अन्य छोटे बस स्टैंड में स्क्रीनिंग की जाएगी। यदि ट्रेन से आते हैं तो रेलवे स्टेशन पर जांच की जाएगी। यदि ऐसे लोग बगैर जांच कराए गांव चले जाते हैं तो गांव स्तर पर लगाए जाने वाले कैंप में जांच कराई जाएगी।

प्रवासी मजदूरों की सूचना देंगे जनप्रतिनिधि
जिला प्रशासन ने मुखिया, आंगनबाड़ी केंद्र में कार्यरत कर्मचारी एनएम और आशा को जिम्मेदारी दी है कि गांव में आने वाले प्रवासी मजदूरों की सूचना जिला प्रशासन को दें ताकि ऐसे लोगों की स्क्रीनिंग की जा सके। डीएम ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि होली के अवसर पर आने वाले प्रवासी मजदूरों पर विशेष ध्यान रखें तथा गांव आने वाले प्रत्येक प्रवासी मजदूरों की सूची बनाएं ताकि उनकी जांच एवं वैक्सीन दी जा सके। डीएम ने बताया कि रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड में तीन शिफ्ट में जांच करने वाले कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *