2012 बैच के IAS Mukesh Pandey बेहद कड़क ऑफिसर थे , ऑल इंडिया में पाया था 14वीं रैंक

खबरें बिहार की

बिहार के बक्सर जिले के डीएम व 2012 बैच के IAS Mukesh Pandey ने आत्महत्या कर ली। आत्महत्या से पहले उन्होंने अपने जानने वाले को व्हाट्सएप पर मैसेज भेजा। इस मैसेज में उन्होंने जिंदगी से ऊब जाने की बात कही है।

मैसेज भेजने के बाद वे जनकपुरी के एक मॉल की 10 वी मंजिल पर पहुंचे और वहां से छलांग लगा दी। वे गाजियाबाद की ओर रेलवे लाइन की तरफ गिरे। बताया जा रहा है कि उनके जानने वालों ने व्हाट्सएप मैसेज की सूचना दिल्ली पुलिस को दी।

मुकेश पांडेय 2012 के आईएएस थे। यह मुलतः छपरा के निवासी थे। हालांकि इनके पिता गुवाहाटी में डॉक्टर है। इस वजह से पूरे परिवार स्थायी रूप से गुवाहाटी में ही रह गया। मुकेश ने 2012 में ऑल इंडिया में 14वीं रैंक लाया था। IAS Mukesh Pandey दो साल तक कटिहार में डीडीसी पद पर रहे। इससे पहले बेगूसराय के बलिया में एक साल तक एसडीओ थे।




इनकी शादी पटना में ही हुई थी। जिससे एक तीन माह की एक पुत्री भी है। वहीं मुकेश पांडेय की पूरी शिक्षा -दीक्षा गुवाहाटी में हुई। मुकेश पांडेय के बड़े भाई भारतीय विदेश सेवा में हैं। मुकेश पांडेय लाश रेलवे ट्रैक पर मिली।

आत्महत्या से पहले उन्होंने अपने परिचितों को व्हाट्सएप मैसेज भेज कर इसकी जानकारी दी थी। पुलिस ने शव कब्जे में ले लिया है, पोस्टमार्ट शुक्रवार कराया जायेगा।




सुसाइड नोट में परिवारिक कलह का जिक्र बताया गया है। इसमें उन्होंने लिखा है कि मैं अपनी जिंदगी से ऊब गया था। इस दौरान यह भी लिखा है कि मेरी मौत की सूचना मेरे ससुर को दी जाए कि मैंने अपनी मर्जी से सुसाइड किया है।




buxar dm suicide IAS mukesh pandey




buxar dm suicide




buxar dm suicide



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *