mukesh pandey

IAS Mukesh Pandey की पत्नी ने नहीं किया अपने पति का अंतिम दर्शन, गाड़ी में ही बैठी रही

खबरें बिहार की

बक्सर के डीएम Mukesh Pandey ने गाजियाबाद में आत्महत्या कर ली। उनके आत्महत्या करने से उनका पूरा परिवार आहत है। पूरा परिवार सदमे में है। उनको विश्वास नहीं हो रहा की मुकेश पांडेय अब इस दुनिया में नहीं रहे। Mukesh Pandey के शव का पोस्टमार्टम गाजियाबाद में किया गया। इस दौरान गर के सभी लोग वहां मौजूद थें। । मुकेश पांडेय के चाचा वशिष्ठथ पांडेय यह मानने को तैयार नहीं हैं कि उनका भतीजा आत्मयहत्यां कर सकता है।


मुकेश की पत्नी आयुषि पांडेय ने अपने पति का अंतिम दर्शन तक नहीं किया। वह गाड़ी में ही बैठी रही, गाड़ी ने नीचे नहीं उतरी। Mukesh Pandey के बड़े भाई राकेश सेवा भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी हैं। मास्को में भारतीय दूतावास में पदस्था्पित हैं। छोटे भाई की मौत की खबर सुनकर भारत लौट रहे हैं।




मुकेश पांडेय के ससुर राकेश प्रसाद सिंह ने कहा कि दामाद ने आत्हत्या करके अच्छा नहीं किया। वह कायर निकला। उन्होंने आयुषि और मुकेश के बीच किसी भी प्रकार के घटपट से इंकार किया है। उन्होंने कहा कि पटना आने पर मुकेश पत्नीे के साथ चाणक्या होटल में लंच-डिनर को जाते थे। ससुर राकेश प्रसाद सिंह का पटना में मारुति की एजेंसी का कारोबार वाउज ऑटोमाबइल के नाम से है।




गौरतलब है कि बक्सेर के डीएम Mukesh Pandey ने गुरुवार शाम के समय गाजियाबाद में आत्मलहत्या् कर ली। पांडेय का शव गाजियाबाद स्टेशन से एक किलोमीटर दूर किलोमीटर दूर कोटगांव के पास रेलवे ट्रैक पर क्षत-विक्षिप्त हालत में मिला। वह 2012 बैच के आईएएस थे। आत्महत्या से पहले उन्होंने अपने करीबी को मैसेज भी किया की वह आत्महत्या करने वाले हैं।




बिहार के सारण जिले के रहने वाले मुकेश पांडेय गुरुवार सुबह ही बक्सर के उपविकास आयुक्त मोबिन अली अंसारी को प्रभार सौंपकर दिल्ली के लिए निकले थे। कुछ दिन पहले ही उन्हेंय बक्सनर का डीएम बनाया गया था। बक्सर से पहले वह कटिहार में डीडीसी थे।




DM mukesh pandey




mukesh pandey

Leave a Reply

Your email address will not be published.